SACH KE SATH
add_doc_3
add_doctor

भारतीय सेना की खास मुहिम, श्रीनगर में ‘सुपर 30’ की क्लास शुरू

बीएनएन डेस्क: कश्मीर के बच्चों का भविष्य भी देश के अन्य बच्चों की तरह उज्ज्वल हो और वो अच्छी नौकरी हासिल कर सकें इसके लिए भारतीय सेना ने फ्री कोचिंग संटर शुरू किया है. मेधावी छात्रों को भारतीय सेना यह सुविधा मुहैया करवा रही है. आर्मी ने घाटी के छात्रों के लिए ‘कश्मीर सुपर 30 के तहत इस साल 30 मेधावी छात्रों का चयन किया है. सेना इन चयनित छात्रों को फ्री में कोचिंग देगी. इस फ्री मेडिकल कोचिंग से कश्मीर के होनहार बच्चों को मेडिकल प्रवेश परीक्षा (NEET) के लिए मदद मिलेगी. बता दें कि नेशनल इंटीग्रिटी एंड एजुकेशनल डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन और आर्मी एडमिनिस्ट्रेशन एंड लॉजिस्टिक्स की ओर से सुपर 30 बैच के छात्रों को हर तरह की सुविधा मुहैया कराई जाती है.
नेशनल इंटेग्रिटी एंड एजुकेशनल डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (एनआईईडीओ) एक एनजीओ है. यह 30 ऐसे बच्चों का चयन करता है जो पढ़ाई में काफी अच्छे होते हैं. यह NGO इन बच्चों के लिए अच्छे टीचर उपलब्ध कराता है जो इनको फ्री में पढ़ाते हैं. वहीं सेना बच्चे की पढ़ाई की सारी व्यवस्था का जिम्मा उठाती है और बच्चों को आर्थिक मदद के अलावा खाने-पानी की सारा खर्च हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड उठाती है.
कश्मीर सुपर 30 बैच की शुरूआत 2018 में हुई थी. सुपर 30 के पहले बैच की शुरुआत आर्मी के लेफ्टिनेंट जनरल एके भट्‌ट ने की थी. उस समय पहले बैच के लिए करीब 1400 बच्चों ने परीक्षा दी थी. जिसमें से 170 बच्चों को शॉर्ट लिस्ट किया गया था. इंटरव्यू में 30 बेहतर बच्चों का चयन हुआ था. भारतीय सेना की इस मुहिम के तहत पूरे एक साल तक बच्चों को फ्री में पढ़ाया जाता है.