विज्ञान

ब्लैक होल सितारों को निगलता ही नहीं बल्कि उनके निर्माण में भी सहयोग करता है, नया खुलासा

  वॉशिंगटन : ब्लैक होल को हम अंतरिक्ष के राक्षस के नाम से भी जानते है. अपने नजदीक आने वाली हर चीज को निगल जाने के सक्षम है ब्लैक होल. यहां तक कि प्रकाश भी ब्लैक होल से होकर नहीं...

Read more

कुछ तारों की गति बाधित आकाशगंगाओं में काले पदार्थ के आकार का संकेत देती हैं

काले पदार्थ वहा ढांचा बनाते हैं जिसपर आकाशगंगाएं बनती हैं, विकसित होती हैं और विलीन हो जाती है. वैज्ञानिक इस बात की जांच कर रहे हैं कि किस तरह काला पदार्थ के आकार का प्रभामंडल तारा संबंधी घेरों (कुछ आकाशगंगाओं...

Read more

Wander: एक तारा जिसमें धड़कन है, लेकिन नाड़ी स्पंदन और चुम्बकीय क्षेत्र नहीं

Wander: एक तारा जिसमें धड़कन है, लेकिन नाड़ी स्पंदन और चुम्बकीय क्षेत्र नहीं बिना चुंबकीय क्षेत्र वाले धड़कन-युक्त एक तारे की खोज भारतीय और अंतरराष्ट्रीय वैज्ञानिकों के एक समूह ने एक अनोखा बाइनरी स्टार ढूंढ निकाला है, जिसमें धड़कन है,...

Read more

वायु प्रदूषण और मौसम में बड़े बदलावों ने पराग कणों की सघनता को प्रभावित किया है: अध्ययन

  नई दिल्ली.वैज्ञानिकों ने एक अध्ययन में पाया है कि वायु प्रदूषण के चलते पराग कणों की सघनता पर असर पड़ा है और अलग-अलग प्रकार के पराग कणों पर मौसम में होने वाले परिवर्तन का भिन्न-भिन्न प्रभाव देखने को मिल...

Read more

सूरज कुण्ड बरकट्ठा, भारत का सबसे ज्यादा तापमान वाला गर्म पानी का स्रोत

सूरज कुण्ड, यह गर्म जलकुंड हजारीबाग जिले के बरकट्ठा प्रखंड में है। यह हजारीबाग मुख्यालय से करीब 72 किलोमीटर दूर बरकट्ठा प्रखंड में स्थित है। यह भारत का सबसे ज्यादा तापमान वाला गर्म पानी का स्रोत है। यहां पानी का...

Read more

छोटे से गांव के स्ट्रीट लाइट से नोबेल विजेता बनने तक का सफर

पेड़ के नीचे पढ़ाई करने वाले एक छोटे से गांव के लड़के से नोबेल विजेता बनने तक हरगोविंद खुराना का सफर संघर्ष और जिजीविषा की दास्तान है. उनका नाम उन चुनिंदा वैज्ञानिकों में शामिल है जिन्होंने बायोटेक्नॉलॉजी की बुनियाद रखने...

Read more

जानिए शिकाकाई के औषधीय गुण : वनौषधि 16

शिकाकाई इसे विमल या सप्तला भी कहते है। इसके पौधे का स्वरूप एक फैला हुआ कंटकी गुल्म, शाखाएँ लम्बी पतली, उपशाखाएँ श्वेताभ जिन पर वक्रकाटों की पाँच कतारें होती हैं। पत्ते पक्षाकार संयुक्त पुष्प श्वेत पीतवर्णी या गुलाबी जो गोल...

Read more

बबूल के फल, फूल, गोंद और पत्तों के हैं कई फायदे : वनौषधि 15

बबूल इसे कीकर भी कहते हैं। यह मूलतः अफ्रीका  एवं भारत में पाया जाने वाला वृक्ष है। इस पेड़ में भगवान विष्णु का निवास माना जाता है। भारत में औषधि के रूप में एवं दातुन करने में बाबुल का खूब...

Read more

बड़ी इलायची के फायदे, औषधीय गुण : वनौषधि 14

बड़ी इलायची इसे संस्कृत में वृहदेला, अंग्रेजी में Black cardamom तथा हिंदी में 'काली इलायची', 'भूरी इलायची', 'लाल इलायची', 'नेपाली इलायची' या 'बंगाल इलायची' आदि नामों में जाना जाता है। इसके सुखाये हुए फल और बीज भारत सहित कई अन्य...

Read more

जानिए काजू बदाम के औषधीय गुण : वनौषधि – 13

काजू शुक्रवर्धक, त्वचा को मृदु बनाने के गुण वाली तथा पौष्टिक है। प्रचलित नाम- काजू बदाम वैज्ञानिक नाम - Anacardium occidentale काजू एक प्रकार आयुर्वेदिक औषधि है जिसका फल सूखे मेवे के लिए भी किया जाता है। काजू से अनेक...

Read more