Know The Truth
Browsing Category

विज्ञान

वायु प्रदूषण और मौसम में बड़े बदलावों ने पराग कणों की सघनता को प्रभावित किया है: अध्ययन

नई दिल्ली.वैज्ञानिकों ने एक अध्ययन में पाया है कि वायु प्रदूषण के चलते पराग कणों की सघनता पर असर पड़ा है और अलग-अलग प्रकार के पराग कणों पर मौसम में होने वाले परिवर्तन का भिन्न-भिन्न प्रभाव देखने को मिल है. पराग हवा में घुले रहते…

सूरज कुण्ड बरकट्ठा, भारत का सबसे ज्यादा तापमान वाला गर्म पानी का स्रोत

सूरज कुण्ड, यह गर्म जलकुंड हजारीबाग जिले के बरकट्ठा प्रखंड में है। यह हजारीबाग मुख्यालय से करीब 72 किलोमीटर दूर बरकट्ठा प्रखंड में स्थित है। यह भारत का सबसे ज्यादा तापमान वाला गर्म पानी का स्रोत है। यहां पानी का सामान्य तापमान लगभग 88.5…

छोटे से गांव के स्ट्रीट लाइट से नोबेल विजेता बनने तक का सफर

पेड़ के नीचे पढ़ाई करने वाले एक छोटे से गांव के लड़के से नोबेल विजेता बनने तक हरगोविंद खुराना का सफर संघर्ष और जिजीविषा की दास्तान है. उनका नाम उन चुनिंदा वैज्ञानिकों में शामिल है जिन्होंने बायोटेक्नॉलॉजी की बुनियाद रखने में अहम भूमिका

जानिए शिकाकाई के औषधीय गुण : वनौषधि 16

शिकाकाई इसे विमल या सप्तला भी कहते है। इसके पौधे का स्वरूप एक फैला हुआ कंटकी गुल्म, शाखाएँ लम्बी पतली, उपशाखाएँ श्वेताभ जिन पर वक्रकाटों की पाँच कतारें होती हैं। पत्ते पक्षाकार संयुक्त पुष्प श्वेत पीतवर्णी या गुलाबी जो गोल मुंडक में होते

बबूल के फल, फूल, गोंद और पत्तों के हैं कई फायदे : वनौषधि 15

बबूल इसे कीकर भी कहते हैं। यह मूलतः अफ्रीका  एवं भारत में पाया जाने वाला वृक्ष है। इस पेड़ में भगवान विष्णु का निवास माना जाता है। भारत में औषधि के रूप में एवं दातुन करने में बाबुल का खूब इस्तेमाल किया जाता रहा है। कान्तिवान संतान के

बड़ी इलायची के फायदे, औषधीय गुण : वनौषधि 14

बड़ी इलायची इसे संस्कृत में वृहदेला, अंग्रेजी में Black cardamom तथा हिंदी में 'काली इलायची', 'भूरी इलायची', 'लाल इलायची', 'नेपाली इलायची' या 'बंगाल इलायची' आदि नामों में जाना जाता है। इसके सुखाये हुए फल और बीज भारत सहित कई अन्य देशों के

जानिए काजू बदाम के औषधीय गुण : वनौषधि – 13

काजू शुक्रवर्धक, त्वचा को मृदु बनाने के गुण वाली तथा पौष्टिक है। प्रचलित नाम- काजू बदाम वैज्ञानिक नाम - Anacardium occidentale काजू एक प्रकार आयुर्वेदिक औषधि है जिसका फल सूखे मेवे के लिए भी किया जाता है। काजू से अनेक प्रकार की

अकरकरा के औषधीय गुण : वनौषधि – 12

अकरकरा में कामेच्छा को बढ़ाने वाले गुण होते हैं। पुरुषों के लिंग विकारों में प्रयोज्य। प्रचलित नाम- अकरकरा वैज्ञानिक नाम - Anacyclus pyrethrum प्रयोज्य अंग-मूल, पत्र एवं पुष्प । स्वरूप-चिरस्थायी सीधे किन्तु झुके हुए गुल्म, पत्ते

जानिए उग्रगंधा / वच के औषधीय गुण : वनौषधि – 11

प्रचलित नाम- वच/ (घोर वच) वैज्ञानिक नाम  Acorus calamus प्रयोज्य अंग-भूमिगत कंद । स्वरूप- कीचड़ या जल में उगने वाले लघु गुल्म, मूल कंद मांसल, भू प्रसरी सुगंधित, पत्ते लम्बे तलवार के समान पुष्प मंजरी सघन पत्र कोशों से ढकी हुई।

जानिए अपामार्ग / चिरचिरी के औषधीय गुण : वनौषधि -10

अपामार्ग के मूल को दूध में घिसकर मासिक ऋतु स्राव के समय सेवन कराने से पुत्र पैदा होता है। प्रचलित नाम-चिरचिरा (लटजीरा) वैज्ञानिक नाम - Achyranthes aspera प्रयोज्य अंग-पंचांग, पत्र, मूल, बीज । स्वरूप एक वर्षायु उन्नत गुल्म, कांड