SACH KE SATH
add_doc_3
add_doctor
Browsing Category

Opinion

विश्व स्तनपान दिवस: “शिशु के पोषण का आधार है, मां का दूध ही सर्वोत्तम आहार…

BNN DESK: हर साल एक अगस्त से लेकर सात अगस्त के बीच विश्व स्तनपान सप्ताह मनाया जाता है. स्तनपान के महत्व के प्रति…

हमें भी जिद है……..

नीता शेखर, कहते हैं कि लड़कों का रूप रंग नहीं देखा जाता. उनका गुण और स्वभाव देखा जाता है पर आज की दुनिया में ऐसी…

मन ही मन्दिर है

बैजनाथ आनंद, अनोखेलाल मस्तमौला व्यक्ति हैं, लेकिन चंचल स्वभाव के कारण वे बहुत परेशान भी रहते हैं. मन्दिर में जब…

मैं, वो और वक्त……

नीता शेखर, वक्त एक ऐसी चीज है कब कहां किस का वक्त बदल जाए कोई नहीं जानता. वक्त ही तो नहीं था रेनू के पास जो…

वामपंथियों की कुटिल चाल कामयाब हुई होती आज 17 पाकिस्‍तान होते, वामपंथियों ने कहा…

रमेश कुमार दुबे 1946 में वामपंथियों ने कहा भारत एक राष्‍ट्र नहीं बल्‍कि 17 राष्‍ट्रों का एक समूह है. स्‍पष्‍ट है…

बेहतर पालन-पोषण के लिए सकारात्मक सामाजिक नियम अनिवार्य और महत्वपूर्ण हैं…

राहुल मेहता रांची: खेल में रोहन को चोट लगने पर रोने लगा. उसके आठ वर्षीय दोस्त संदीप ने ताना मारा- क्या लड़कियों…

बच्चों की बेहतर पालन-पोषण और अभिभावकों की जिम्मेदारियां (परवरिश -1)

राहुल मेहता, रांची: बच्चों के परवरिश के महत्त्व से हम सभी वाकिफ हैं. परवरिश निर्धारित करता है कि बच्चा कैसे बड़ा…

बेटियां तो बस बेटियां ही होती है–चाहे अरमां आंसुओं में क्यों न बह जाए

पदमा सहाय रांचीः बेटियां तो बेटियां ही होती है. बेटियां ऐसी कि परिवार की बेहतरी के लिए अपने अरमानों का गला भी…