SACH KE SATH

‘मुर्दा’ के जिंदा होने की अफवाफ के बाद बाजार में मची भगदड़

मुजफ्फरपुर: बिहार के मुजफ्फरपुर जिले से चौंकाने वाला मामला सामने आया है. मामला जिले के मुजफ्फरपुर बाजार का है, जहां शनिवार को मुर्दा के जिंदा होने की अफवाह पर बाजार में भगदड़ मच गई. लोग डर के मारे इधर-उधर भागने लगे. वहीं, स्थानीय लोग डर गए. दरअसल, शनिवार यानी शहीद दिवस के दिन मुजफ्फरपुर निवासी अशोक भारती जो पेशे से अधिवक्ता हैं, वो अपनी टीम के साथ मिलकर महात्मा गांधी की शहादत पर एक दिवसीय नाटक कर रहा थे.

‘मुर्दा’ के हिलने के बाद मची भगदड़

इसी कार्यक्रम के तहत महात्मा गांधी की हत्या के बाद उनकी शव यात्रा निकालने का नाटक किया जा रहा था. इस दौरान एक व्यक्ति महात्मा गांधी बन कर अर्थी पर लेटा हुआ था. जिसे एक गाड़ी पूरे जिले में घुमा रही थी. हालांकि, नाटकीय शव यात्रा में उपस्थित लोग नाटक के बीच ही अपने-अपने काम से कहीं चले गए, जिसके बाद वाहन चालक अकेले की शव लिए जा रहा था. इसी बीच गांधी जी की भूमिका में मृत पड़े व्यक्ति का फोन बजने लगा और वो कॉल रिसीव करने के लिए हिलने लगा.

ड्राइवर ने लोगों को समझाया

यह देखते ही मुर्दा के जिंदा होने की अफवाफ फैल गई और आसपास भगदड़ मच गई. हालांकि, बाद में शव वाहन के ड्राइवर ने वहां उपस्थित लोगों को समझाया कि यह नाटक हो रहा है, जिसके बाद लोगों की सांस में सांस आयी. हालांकि, अब इस पूरे प्रकरण का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

इधर, घटना के संबंध में सारी जानकारी मृतक की भूमिका निभाने वाले व्यक्ति राजेश भारती ने खुद दी है, ताकि लोगों के बीच जो मृतक के जिंदा होने की अफवाह फैल रही है, उसका खुलासा हो सके.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.