BNN BHARAT NEWS
सच के साथ

गड्ढे में दफन मिला पत्नी का शव

489

जालौन: जालौन में डेढ़ साल से घर में दफन एक महिला का शव मिला है जो‎कि कंकाल के रूप में बरामद हुआ. जिसे पुलिस ने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. दरअसल, यहां के रहने वाले प्रमोद अहिरवार के घर में उसकी 28 वर्षीय पत्नी विनीता का शव एक गड्ढे में दफन मिला, जो बीते 15 मई 2018 से गायब थी और उसके माता-पिता उसे खोजने का प्रयास कर रहे थे. लेकिन महिला का कुछ भी पता नहीं चल पा रहा था.

इस मामले में मृतका के मामा सुरेंद्र पाल द्वारा राज्यपाल महोदय को शिकायती पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई गई थी. इसके बाद में मामले की जांच डीएम के पास आई थी, उनके आदेश पर आज प्रमोद के घर पर खुदाई की गई. तो महिला का शव जमीन में दफन मिला. घटना के संबंध में मृतका के मामा सुरेंद्र ने बताया कि मृतका का मायका जालौन के ग्राम सरसौखी में था. उसके माता-पिता द्वारा 2011 में प्रमोद के साथ शादी कराई गई थी, लेकिन शादी के बाद से ही विनीता को प्रमोद प्रताड़ित करने लगा था और उसे घर पर भी नहीं आने देता था.

bhagwati

इसके बाद में मामला कोतवाली में दर्ज कराया, लेकिन 6 महीने बाद मामले में समझौता कराने के बाद विनीता को प्रमोद के साथ भेज दिया गया. मगर, उसके बाद से ही उसने विनीता से बात नहीं कराई और वह लगातार यह कहकर बात टालता रहा कि विनीता सो रही है, लेकिन हकीकत ये थी कि उसने विनीता की हत्या करने के बाद शव घर में दफना दिया था. वहीं सिटी मजिस्ट्रेट हरीशंकर शुक्ला ने बताया कि उन्हें जिलाधिकारी द्वारा आदेश दिया गया था कि एक महिला का शव मकान में दफन है उन्हीं के आदेश पर वह शव को बाहर निकलवाने के लिए आए थे.

एसपी सतीश कुमार ने बताया कि थाना उरई की घटना है कि विनीता नाम की एक महिला जिसकी शादी उरई में हुई थी, उससे मायके वालों से बात नहीं हो रही थी. उसका पति मायके वालों को लगातार झूठ बोल रहा था. दामाद के बहानों से तंग आकर मृतका के परिवार वालों ने दवाब बनाना शुरू किया.

shaktiman

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

yatra
add44