BNN BHARAT NEWS
सच के साथ

3 बार ब्रश करने से दूर होगा हार्ट डिजीज का खतरा, जानें कैसे…

552

दांतों की सफाई पर खास ध्यान देनेवाले और ओरल हाइजीन के प्रति बहुत अधिक सतर्क रहनेवाले लोगों के लिए राहत देनेवाली खबर है. एक ताजा शोध के अनुसार, जो लोग दिन में तीन या इससे अधिक बार अपने दांतों की सफाई करते हैं, वह भी उनकी ऊपरी परत को नुकसान पहुंचाए बिना उन्हें हार्ट से संबंधित बीमारियां होने का खतरा कई गुना कम हो जाता है.

शोधकर्ताओं के अनुसार, दिन रोज कम से कम तीन बार ब्रश करनेवाले लोगों में आर्टिअल फिब्रिलेशन के चांस 10 प्रतिशत और हार्ट फेल्यॉर के चांस 12 प्रतिशत तक कम हो जाते हैं. साथ ही हार्ट बीट के अनियमित होने का खतरा भी इस तरह ब्रश करने से घट जाता है. यह बात हालही साउथ कोरिया में हुई एक नई स्टडी में सामने आई है.

ओरल हाइजीन के लेकर पिछले दिनों हुई एक स्टडी में यह बात सामने आई थी कि यदि मुंह की सफाई का ध्यान ना रखा जाए तो यहां पैदा होने वाले बैक्टीरिया, दिल से संबंधित बीमारियों का कारण बन सकते हैं. यूरोपियन जनरल ऑफ प्रिवेंटिव कार्डियॉलजी में प्रकाशित ताजा रिसर्च के अनुसार, शोध में साबित हुआ कि ओरल हाइजीन और दिल की सेहत के बीच सीधा-सा संबंध है.

bhagwati

इस रिसर्च को कोरियन नैशनल हेल्थ इंश्योरेंस द्वारा करीब 16 लाख लोगों से प्राप्त डेटा के आधार पर प्रकाशित किया गया. जिन लोगों पर यह शोध किया गया उन सभी की उम्र 40 से 79 साल के बीच रही. इस दौरान इन सभी लोगों की जांच उनकी हाइट, वेट, बीमारियों, लाइफस्टाइल, ओरल हेल्थ हाइजीन और की तरह के लैबोरेट्री टेस्ट किए गए. इसके साथ ही जेंडर, सोशियोइकनॉमिक स्टेटस, रेग्युलर एक्सर्साइज, अल्कोहल की आदत, बॉडी मास इंडेक्स, हाइपर टेंशन जैसे डिसऑडर्स की भी जांत की गई.

इस रिसर्च में सामने आया कि दिन में कम से कम 3 बार ब्रश करने से सबजिवलिंग बायोफिल्म में बैक्टीरिया बहुत तेजी से घट जाते हैं, ये वो बैक्टीरिया होते हैं जो दांतों और मसूड़ों के बीच के स्पेस में पनपते हैं. ये बैक्टीरिया अलग-अलग तरह से हार्ट के संपर्क में आ जाने पर अनेक बीमारियों की वजह बनते हैं, जिनमें हार्ट फेल्यॉर और हार्ट बीट का अनियमित होना भी शामिल है.

shaktiman

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

yatra
add44