SACH KE SATH

यह देश को बेचने वाला बजट, बिहार के साथ हुआ सौतेला व्यवहार: तेजस्वी

पटना: आम बजट को लेकर बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने प्रतिक्रिया दी है. तेजस्वी ने इसे देश को बेचने वाला बजट बताया है. राबड़ी आवास पर तेजस्वी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि पार्टी का मानना है कि ये बजट नहीं ये देश बेचने का बजट है.

उन्होंने केंद्र सरकार पर सीधा हमला करते हुए कहा कि पहले तरह-तरह के संस्थानों को बेचा गया. इस बजट में और क्या बिक रहा है. जो देश की संपत्तियां रहीं उसको पुरजोर तरीके से बेचने की तैयारी है. इसने आम आदमी की कमर तोड़ दी है.

तेजस्वी ने केंद्र सरकार और राज्य सरकार दोनों को लेकर निशाना साधा और कहा कि मुख्यमंत्री ख़ामोश क्यों हैं. ये कुछ लोगों को फायदा पहुंचाने का बजट है. बिहार को कुछ नहीं मिला. उन्होंने कहा कि स्पेशल स्टेटस दूर की बात, कोई प्लानिंग बिहार को देखते हुए नहीं की गई है. यहां के सांसद सिर्फ टेबल पीटते रहे.

तेजस्वी ने पूछा कि इस बजट में बिहार को क्या मिला, बिहार के साथ सौतेला व्यवहार किया गया है. बिहार की दयनीय स्थिति सब लोगों को पता है. बजट आने के बाद मुख्यमंत्री खामोश हैं. इसमें न कोई उद्योग, न किसी रोज़गार की बात हुई है.

आरजेडी नेता ने कहा कि लालू जी ने हर साल 90 हज़ार करोड़ का मुनाफा दिया था, चार कारखाना दिया, रेल किराया कम किया था. ये सब उन्होंने तब करवाया जब बिहार में एनडीए की सरकार थी. अब हम पूछ रहे हैं बिहार को क्या मिला. आम आदमी निराश और परेशान हैं. जहां चुनाव हैं वहां का बजट में चीखकर नाम लिया गया. तेजस्वी यादव ने सवाल करते हुए कहा कि बिहार में एनडीए ते 39 सांसद हैं, वो जवाब दें कि ऐसा क्यों हुआ. बिहार के साथ सौतेला व्यवहार क्यों किया गया है.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.