BNN BHARAT NEWS
सच के साथ

10 वीं व 12 वीं के स्टूडेंट्स को राहत, CBSE ने बोर्ड परीक्षा में घटाई प्रश्नों की संख्या

बोर्ड परीक्षा में 2020 से चेंजेस लाने का फैसला

58

सीबीएसई के 10वीं और 12 वीं के बच्चों के लिए यह खबर बड़ी राहत भरी हैं। क्योंकि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने बोर्ड परीक्षा में 2020 से चेंजेस लाने का फैसला किया है। CBSE हेडक्वार्टर ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर जानकारी दी है कि 10वीं और 12वीं के विषयों में विवरणात्मक (डि्क्रिरप्टिव) प्रश्नों की संख्या कम की गई है। कक्षा 10 के कई विषयों जैसे हिंदी, अंग्रेजी, विज्ञान, गणित, सामाजिक विज्ञान, गृह विज्ञान और संस्कृत जैसे विषयों की विवरणात्मक प्रश्नों की संख्या कम कर दी गई है। इससे अब स्टूडेंट को बड़ी राहत के तौर पर देखा जा रहा है। ऐसा कहा जा रहा है कि अब स्टूडेंट्स को प्रश्नों का उत्तर देने में काफी आसानी होगी।

bhagwati

वहीं 12वीं के भी गणित, फिजिक्स, केमिस्ट्री, अकाउंट, सोशियोलॉजी, इकॉनोमिक्स,बिजनेस स्टडीज विषयों में विवरणात्मक प्रश्नों की संख्या को भी कम किया गया है। अब सभी छात्र कम समय में भी अपना प्रश्नपत्र पूरा कर सकते हैं, हालांकि बोर्ड ने प्रश्नों के उत्तर देने की समय सीमा में किसी भी तरह की कोई कटौती नहीं की है। बोर्ड ने सभी विषयों में 20 अंक प्रयोगात्मक तथा आंतरिक मूल्यांकन के निर्धारित किए हैं।

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के तहत 9वीं व 11वीं में रजिस्ट्रेशन के समय बिना संबद्धता (एफिलिएशन) वाले विषय भरने पर छात्रों को 10वीं और 12वीं के बोर्ड एग्जाम में अयोग्य घोषित कर दिया जाएगा। इतना ही नहीं इसके साथ संबंधित स्कूल के खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई की जाएगी। बोर्ड ने स्पष्ट कहा है कि स्कूल उन्हीं विषयों के लिए 9वीं और 11वीं में छात्रों का रजिस्ट्रेशन करें, जिनकी संबद्धता बोर्ड द्वारा स्कूलों को दी गई है।

gold_zim

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

add44