SACH KE SATH

सीएम के काफिले पर हमले की आरोपी पार्षद रोशनी खलखो ने किया सरेंडर


कई अन्य आरोपी पहले ही कर चुके है सरेंडर
रांची. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के काफिले पर हमले की आरोपी रोशनी खलखो ने मंगलवार को रांची कोर्ट में आत्मसमर्पण कर दिया.
रांची नगर निगम के वार्ड 19 की पार्षद रोशनी खलखो को 4 जनवरी को सीएम के काफिले पर हमला मामले में नामजद अभियुक्त बनाया गया है. रोशनी ने सिविल कोअर् के जज अभिषेक प्रसाद की अदालत में आत्मसमर्पण किया.
कोर्ट में सरेंडर करने के बाद पत्रकारों से बातचीत में रोशनी खलखो ने पुलिस पर कई गंभीर आरोप लगाये. उन्होंने कहा कि पुलिस ने उनके बुजुर्ग सास और ससुर तथा 6 साल की बेटी के साथ अभद्र व्यवहार किया. उनके सामने असंवैधानिक शब्दों का प्रयोग किया. उन्होंने यह भी दावा किया कि उनके पास पुलिस के इस कृत्य का वीडियो भी है.
गौरतलब है कि इस मामले के मुख्य आरोपी भैरव सिंह और शशांक राज ने पहले ही सरेंडर कर दिया है, जबकि दर्जनों आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है. ज्ञातव्य हो कि 3 जनवरी को रांची के ओरमांझी में युवती की सिर कटी लाश बरामद हुई. इस घटना से आक्रोशित लोगों ने 4 जनवरी की शाम हरमू रोड में किशोरगंज चौक के निकट शाम 5.35 बजे मुख्यमंत्री का काफिले रोकने की कोशिश की. काफिले के आगे चलने वाली पायलट गाड़ी को रोककर भीड़ ने क्षतिग्रस्त कर दिया था. साथ ही रास्ता क्लीयर कराने की कोशिश कर रहे ट्रैफिक सिपाहियों और पुलिसकर्मियों के साथ उनकी झड़प हुई थी. इस झड़प में एक पुलिसकर्मी को गंभीर चोटें भी आयी थी. रोशनी खलखो और अन्य पर भीड़ को उकासने , सरकारी काम में बाधार डालने और पुलिस पर जानलेवा हमला का आरोप है.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.