BNN BHARAT NEWS
सच के साथ

राष्ट्रपति के आगमन के दौरान अनावश्यक देर तक ट्रैफिक न रोकें, लोगों को असुविधा न होः मुख्य सचिव

राष्ट्रपति के आगमन के दौरान अनावश्यक देर तक ट्रैफिक न रोकें, लोगों को असुविधा न होः मुख्य सचिव

रांची: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 28 और 29 फरवरी को दो दिवसीय दौरे पर झारखंड आ रहे हैं. इस दौरान रांची, गुमला सहित देवघर में उनका कार्यक्रम होगा. मुख्य सचिव डॉ. डीके तिवारी ने राष्ट्रपति के झारखंड आगमन के दौरान व्यवस्था की बिंदुवार जिम्मेदारी अधिकारियों को सौंपी.

Also Read This: विद्वेष से ग्रस्त होकर कार्य न करें हेमंत: दीपक प्रकाश

उन्होंने निर्देश दिया कि उनके आगमन के दौरान अनावश्यक देर तक ट्रैफिक न रोकें, ताकि आम जनता को परेशानी नहीं हो. मुख्य सचिव झारखंड मंत्रालय में राष्ट्रपति के झारखंड आगमन के दौरान तैयारियों को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे.

सेंट्रल यूनिवर्सिटी, झारखंड के दीक्षांत समारोह में लेंगे भाग

राष्ट्रपति 28 फरवरी को अपराह्न 4.40 बजे से 5.30 बजे तक रांची के चेरी मनातू स्थित सेंट्रल यूनिवर्सिटी, झारखंड के कार्यक्रम में भाग लेंगे. वे यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह का हिस्सा बनेंगे और उसके नवनिर्मित भवनों का उद्घाटन करेंगे.

अगले दिन 29 फरवरी को राष्ट्रपति गुमला जिले के विशुनपुर में 10.20 बजे से 11.30 बजे तक विकास भारती के कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे. उसी दिन दोपहर एक बजे वे देवघर पहुंच कर बाबा वैद्यनाथ की पूजा-अर्चना करेंगे.

डायस पर रहेंगी एक तरह की कुर्सिंयां

bnn_add

मुख्य सचिव ने सेंट्रल यूनिवर्सिटी, झारखंड के प्रतिनिधियों को निर्देश दिया कि कार्यक्रम के दौरान डायस पर राष्ट्रपति सहित सभी की कुर्सिंयां एक तरह की होंगी. उनके आगमन के दौरान यूनिवर्सिटी के प्राध्यापकगण और छात्र सड़क के किनारे खड़े होकर उनका स्वागत नहीं करेंगे.

Also Read This: BJP के डीएनए में झूठ, धोखा और साजिश: कांग्रेस

वहीं कार्यक्रम के दौरान डायस और पंडाल में बैठे अतिथियों को चाय-पानी कराने पर भी रोक रहेगी. कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रीय धुन जैप वन के जवान बजाएंगे. डायस का निरीक्षण करने का निर्देश भवन सचिव  प्रवीण टोप्पो को दिया गया.

मुख्य सचिव ने रांची, गुमला और देवघर जिला प्रशासन को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया कि कार्यक्रम स्थल तक राष्ट्रपति का वाहन सुगमता से पहुंचे और वापस लौटे. इसके लिए उपायुक्तों को कार्यक्रम स्थल का पूर्वालोकन करने का भी निर्देश दिया.

सुरक्षा से लेकर आवासन तक की जिम्मेदारी तय की

मुख्य सचिव ने राष्ट्रपति के कार्यक्रम को लेकर उनकी सुरक्षा की समीक्षा की तथा उसकी जवाबदेही तय करते हुए आवश्यक निर्देश दिये. उन्होंने कहा कि कारकेड में एंबुलेंस के साथ उनके ब्लड ग्रुप का रक्त भी रखें. वहीं कार्यक्रम स्थल पर चिकित्सीय व्यवस्था, पेयजल एवं शौचालय, अग्निशमन व्यवस्था सहित उनके यात्रा मार्गों की साफ-सफाई पर विशेष बल दिया.

बैठक में ये थे मौजूद

राष्ट्रपति के झारखंड आगमन के दौरान तैयारियों को लेकर मुख्य सचिव डॉ. डीके तिवारी की अध्यक्षता में संपन्न बैठक में गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, डीजीपी कमल नयन चौबे, प्रधान सचिव शैलेश कुमार सिंह, अजय कुमार सिंह, नितिन मदन कुलकर्णी, सचिव केके सोन,  प्रवीण टोप्पो, हिमानी पांडेय, एडीजी अजय कुमार सिंह, रांची के उपायुक्त और वरीय आरक्षी अधीक्षक समेत अन्य अधिकारी उपस्थित थे. वहीं वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से संबंधित जिलों के उपायुक्त और प्रमंडलीय आयुक्त भी जुड़े थे.


बीएनएन भारत बनीं लोगों की पहली पसंद

न्यूज वेबपोर्टल बीएनएन भारत लोगों की पहली पसंद बन गई है. इसका पाठक वर्ग देश ही नहीं विदेशों में भी हैं. खबर प्रकाशित होने के बाद पाठकों के लगातार फोन आ रहे हैं. लॉकडाउन के दौरान कई लोग अपना दुखड़ा भी सुना रहे हैं. हम लोगों को हर संभव सहायता करने का प्रयास कर रहें है. देश-विदेश की खबरों की तुरंत जानकारी के लिए आप भी पढ़ते रहें bnnbharat.com


  • क्या आपको ये रिपोर्ट पसंद आई? हमें लाइक(Like)/फॉलो(Follow) करें फेसबुक(Facebook) - ट्विटर(Twitter) - पर. साथ ही हमारे ख़बरों को शेयर करे.

  • आप अपना सुझाव हमें [email protected] पर भेज सकते हैं.

बीएनएन भारत की अपील कोरोनावायरस महामारी का रूप ले चुका है. सरकार ने इससे बचाव के लिए कम से कम लोगों से मिलने, भीड़ वाले जगहों में नहीं जान, घरों में ही रहने का निर्देश दिया है. बीएनएन भारत का लोगों से आग्रह है कि सरकार के इन निर्देशों का सख्ती से पालन करें. कोरोनावायरस मुक्त झारखंड और भारत बनाने में अपना सहयोग दें.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

gov add