BNNBHARAT NEWS
Sach Ke Sath

GST में लागू हुआ डॉक्यूमेंट आइडेंटिफिकेशन नंबर, अरेस्‍ट और सर्च वारंट जारी

468

नई दिल्ली: मोदी सरकार ने इनकम टैक्स के बाद अब जीएसटी में डीआईएन यानी डॉक्यूमेंट आइडेंटिफिकेशन नंबर को लागू कर दिया है. देश के बिजनेसमैन के हितों की सुरक्षा के लिए ये कदम उठाया गया है.

Sharda_add

सेंट्रल बोर्ड ऑफ इंडायरेक्ट टैक्स (CBIC) के आदेश के मुताबिक, क्प्छ का इस्‍तेमाल उन GST मामलों में होगा, जिनकी इन्‍क्‍वायरी चल रही है और उनमें अरेस्‍ट और सर्च वारंट जारी हो चुका है. CBIC के मुताबिक, 8 नवंबर के बाद जो भी कागज जारी होगा उस पर क्प्छ देना जरूरी है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, वित्त मंत्रालय की पहल के बाद इसे शुरू किया जा रहा है. अब विभाग से जारी हर नोटिस पर कंप्यूटर जेनरेटेड डॉक्यूमेंट आइडेंटिफिकेशन नंबर (DIN) होगा. साथ ही, अब नए फैसले के तहत अब ये नंबर टैक्सपेयर्स को मिले वाले सभी डॉक्युमेंट पर भी जरूरी हो गया है. यह सिस्टम टैक्स एडमिनिस्ट्रेशन में अधिक जवाबदेही और पारदर्शिता सुनिश्चित करेगी.

ajmani