SACH KE SATH

कांग्रेस भवन में प्रदेश अध्यक्ष के सामने भिड़े कार्यकारी अध्यक्ष और प्रवक्ता

महंगाई के खिलाफ रणनीति तैयार करने के लिए बुलायी गयी बैठक में दो गुटों के नेता आपस में उलझे

रांची:- झारखंड कांग्रेस की अंतर्कलह एक बार फिर सामने आ गई. सोमवार को रांची स्थित पार्टी मुख्यालय में प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर रामेश्वर उरांव के सामने ही कार्यकारी अध्यक्ष और प्रवक्ता आपस में भिड़ गये. दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर जमकर आरोप-प्रत्यारोप लगाये और बात हाथापाई की नौबत तक आ पहुंची. लेकिन बाद में पार्टी के ही अन्य नेताओं के समझाने पर मामला शांत हुआ.

प्रदेश कांग्रेस भवन में पेट्रोल-डीजल की कीमत में बढ़ोत्तरी के खिलाफ आंदोलनात्मक कार्यक्रम की रणनीति तैयार करने के लिए बुलायी गयी बैठक में कार्यकारी अध्यक्ष राजेश ठाकुर, मानस सिन्हा और संजय लाल पासवान और प्रदेश प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे, लाल किशोरनाथ शाहदेव और राजेश गुप्ता छोटू के बीच कुछ बातों को लेकर कहासुनी हो गयी और बात हाथापाई की नौबत तक पहुंच गयी. हंगामे के बीच पार्टी विधायक दल के नेता आलमगीर आलम को पिछले दरवाजे से बाहर निकलना पड़ा. वहीं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ0 रामेश्वर उरांव ने इस घटना को तूल देने से मना करते हुए कहा कि परिवार में कभी-कभी आपस में कुछ बातों को लेकर छोटी-छोटी बातें होती है, लेकिन कहीं कोई झगड़े की बात नहीं है. पार्टी के सभी कार्यकर्त्ता एकजुट होकर पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस की कीमत के खिलाफ आंदोलनात्मक कार्यक्रम चलाएंगे.

इस बैठक में आंदोलनात्मक कार्यक्रम की रूपरेखा तय गयी. पार्टी की ओर से आगामी 25 फरवरी को सभी जिलों में एवं प्रदेश मुख्यालय में संवाददाता सम्मेलन, 26 फरवरी को सभी जिला मुख्यालयों में मशाल जुलूस और 27 फरवरी  को जिला मुख्यालयों में धरना -प्रदर्शन का कार्यक्रम आहूत करने का निर्णय लिया गया है.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.