SACH KE SATH

आधुनिक वैज्ञानिक तरीके से खेती करने से ही किसान होंगे खुशहालः कृषि मंत्री

दुमका:- दुमका जरमुंडी प्रखंड कार्यालय के बगल मैदान में  कृषि प्रौद्योगिकी प्रबन्धन आत्मा दुमका द्वारा दो दिवसीय कृषि मेला सह प्रदर्शनी का आयोजन किया गया. इस अवसर पर  मुख्य अतिथि कृषि पशुपालन सहकारिता मंत्री बादल पत्रलेख ने द्वीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का विधिवत उद्घाटन किया. इस अवसर पर कृषि मंत्री ने सभी को सम्बोधित करते हुए कहा कि जिले के अधिक से अधिक किसान कृषि विज्ञान केंद्र से जुड़कर लाभ उठाए.उन्होंने यह भी कहा कि किसान वैज्ञानिक तरीके से खेती कर अधिक से अधिक लाभ उठाएं.

उन्होंने कहा कि किसानों की आर्थिक उन्नति का आधार कृषि है. इससे न सिर्फ किसानों को लाभ होगा, बल्कि विकास को भी गति मिलती है. उन्होंने किसानों को वैज्ञानिक पद्धति से खेती करने की सलाह दी. उन्होंने कहा कि किसान जब सुदढ़ होंगे, तो गांव के साथ-साथ जिला और देश समृद्ध होगा.  उन्होंने बताया कि जिस प्रकार मनुष्य के शरीर की जांच करके बताया जाता है कि उनके शरीर में किस प्रकार की कमी है ठीक उसी प्रकार मिट्टी की जांच करके पता किया जाता है कि उसमें किस प्रकार की खाद की कमी है. ताकि भरपूर फसल हो सके.

इस अवसर पर कृषि मंत्री बदल पत्रलेख द्वारा लाभुको के बीच परिसंपत्ति का वितरण भी किया गया

इस अवसर पर वहां उपस्थित लोगों को खेती के साथ ही साथ कृषि से संबंधित व्यवसाय जैसे मधुमक्खी पालन, वर्मी कंपोस्ट उत्पादन,बकरी उत्पादन, पशुपालन, मुर्गी पालन, मशरूम उत्पादन,सब्जी उत्पादन इत्यादि पर विशेष  जानकारी दी गयी.

 इस कार्यक्रम में  संयुक्त कृषि निदेशक संथाल परगना अजय कुमार सिंह, परियोजना निदेशक आत्मा, जिला कृषि पदाधिकारी, भूमि संरक्षण पदाधिकारी जिला, मत्स्य पदाधिकारी सहित अन्य उपस्थित थे.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.