BNN BHARAT NEWS
सच के साथ

गरीब बच्चों के पालन-पोषण का खर्च अब सरकार उठायेगी

532

चतरा: ऐसे परिवार जो अपने बच्चों के पालन-पोषण करने में असमर्थ हैं या उनकी बेहतर देखभाल नहीं कर पा रहे, ऐसे परिवारों के बच्चों के पालन-पोषण का खर्च अब राज्य सरकार उठाएगी.

दरअसल चतरा उपायुक्त जितेंद्र कुमार सिंह द्वारा कुल चार बच्चों को अपने कार्यालय कक्ष में राज्य सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना देख रेख तथा प्रयोजन योजना के तहत प्रोत्साहन राशि का वितरण किया गया.

bhagwati

बहरहाल इस योजना के तहत चतरा जिले के कुल 39 बच्चों को यह प्रोत्साहन राशि दी जानी है. इस मौके पर अन्य अधिकारिओं के अलावा बच्चों के माता-पिता व परिजन भी मौजूद थे. इधर चतरा उपायुक्त ने इस मौके पर बताया कि योजना का मुख्य उद्देश्य झारखंड राज्य में रहने वाले 18 वर्ष तक के वैसे बच्चे, जिनके परिवार की सालाना आय अधिकतम 75 हजार रूपये है, वैसे बच्चों के जीवन स्तर में सुधार लाने के उद्देश्य से इस योजना में बच्चों को अधिकतम 3 वर्ष तक प्रतिमाह 2000 रुपये सहायता राशि देने का प्रावधान है.

उपायुक्त ने कहा कि अनाथ व जरूरतमंद बच्चों की मदद करना सभी का सामाजिक दायित्व है. उन्होंने बताया कि वैसे बच्चे जो अनाथ हैं या जिनके माता-पिता अर्थाभाव के कारण अपने बच्चों की समुचित देख-रेख व पालन-पोषण नहीं कर सकते, उन्हें चिह्नित कर मदद करने के उद्देश्य से इसकी शुरुआत की गई है, ताकि बच्चे अपने अधिकारों से वंचित नहीं रह सके. उन्होंने कहा कि जरूरतमंद बच्चों की मदद करने का यह एक बहुत अच्छा सुअवसर है.

gold_zim

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

add44