BNN BHARAT NEWS
सच के साथ

जहां बतौर ट्रेनी काम किया, वहीं के प्लांट हेड बने विशाल बादशाह

37
  • 30 जून को प्लांट हेड संपत मोरी होंगे रिटायर
  • विशाल बादशाह मैन्युफैक्चरिंग और अॉपरेशन्स के विशेषज्ञ

जमशेदपुर. टाटा मोटर्स के सीनियर जीएम (प्रोडक्ट लाइन अॉपरेशन्स, मीडियम एंड हेवी कमर्शियल वेहिकल) विशाल बादशाह को टाटा मोटर्स जमशेदपुर का नया प्लांट हेड बनाया गया है। वे वर्तमान प्लांट हेड संपत मोरी की जगह लेंगे। संपत मोरी 30 अप्रैल को ही रिटायर हो गए थे, लेकिन कंपनी ने नए प्लांट हेड की नियुक्ति होने तक उन्हें दो माह का एक्सटेंशन दिया था। उनका कार्यकाल 30 जून को समाप्त होगा। संपत मोरी ने 1989 में टाटा मोटर्स ज्वाइन किया और विभिन्न विभागों में रहे। विशाल बादशाह के प्लांट हेड बनने का सर्कुलर चार जून को जारी कर दिया गया। टाटा मोटर्स के प्रेसिडेंट और सीएचआरओ रवीन्द्र कुमार ने कंपनी के संगठनात्मक बदलाव की जानकारी दी। विशाल बादशाह मैनुफैक्चरिंग हेड (कमर्शियल वेहिकल बिजनेस यूनिट) एबी लाल को रिपोर्ट करेंगे। विशाल बादशाह की जगह कौन लेगा, इसकी घोषणा बाद में की जाएगी।

1992 में जीईटी के रूप में कॅरियर शुरू किया
विशाल बादशाह ने 1992 में जीईटी (ग्रेजुएट इंजीनियर ट्रेनीज) के रूप में अपने कॅरियर की शुरुआत की। वे लगातार 27 साल तक कंपनी से जुड़े रहे। मूल रूप से भोपाल के रहने वाले विशाल बादशाह ने नागपुर यूनिवर्सिटी से मैकेनिकल की पढ़ाई की। पढ़ाई खत्म होने के बाद टाटा मोटर्स में जीईटी बने।

कंपनी की चुनौतियों का 27 वर्षों के अनुभव के जरिए करेंगे सामना : विशाल बादशाह 
विशाल बादशाह टाटा मोटर्स में प्राइमा सीरिज के वाहनों की लांचिंग के प्रोजेक्ट मैनेजर रहे हैं। उनके नेतृत्व में टाटा मोटर्स में प्राइमा सीरिज के ट्रकों की लांचिंग के साथ वेहिकल फैक्ट्री की शुरुआत हुई। मूल रूप से मैन्युफैक्चरिंग और अॉपरेशन्स की विशेषज्ञता रखने वाले विशाल बादशाह एक सफल प्रोजेक्ट मैनेजर भी रहे हैं। यही नहीं वे कंपनी के इंजन, मेटेरियल्स और सप्लाई चेन विभाग में भी काम कर चुके हैं। विशाल बादशाह ने दैनिक भास्कर को बताया कि टाटा मोटर्स में 27 साल का जो अनुभव है, उसके सहारे कंपनी को आगे ले जाएंगे।

स्पोर्ट्स लविंग हैं बादशाह
बादशाह ने भोपाल से दैनिक भास्कर के साथ बातचीत करते हुए कहा कि आॅटोमोबाइल सेक्टर में जो भी चुनौतियां हैं, उसे टीमवर्क के साथ जीतेंगे। बादशाह को काम के अलावा खेल में काफी रुचि है। बकौल बादशाह, स्पोर्ट्स लविंग हैं। विभिन्न गेम खेलते हैं। इसके अलावा विभिन्न सोसायटी से भी जुड़े हुए हैं। जमशेदपुर मैनेजमेंट एसोसिएशन के सदस्य के साथ ही भारतीय उद्योग संघ (सीआईआई) के स्टेट काउंसिल में है। यही नहीं विशाल बादशाह को इस साल इवेंस्ट (इंडियन वैल्यू इंजीनियरिंग सोसायटी) के इस्टर्न जोन काउंसिल का चेयरमैन बनाया गया है। उन्हें दो बेटियां हैं। बड़ी बेटी इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रही है, जबकि छोटी बेटी लिटिल फ्लावर स्कूल टेल्को में पढ़ती है। पत्नी ग्रहिणी हैं।

shaktiman

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

yatra
add44