SACH KE SATH

पुलिस ने 45 दिन बाद कब्र से निकाल नाबालिग का शव

हजारीबाग:- हजारीबाग जिले के कटकमसांडी निवासी  कयाम खान द्वारा 14 साल की पुत्री की हत्या के आरोप लगाने के बाद शनिवार को पुलिस ने एसडीएम की उपस्थिति में दफन शव को कब्र से निकालकर पोस्टमार्टम के लिए एचएमसीएच भेज दिया है. करीब 45 दिन पहले 14वर्षीय बच्ची की कथित हत्या कटकमसांडी थाना क्षेत्र के लखनु गांव के टोला छल्टा में हुई थी. परिजनों ने आनन फानन में युवती के शव को उसके पैतृक गांव केवला (चौपारण) के कब्रिस्तान में ले जाकर संदिग्धावस्था में  सुपुर्द-ए-खाक कर दिया. गांव में बताया गया कि युवती की मौत कुएं में गिरने से हो गई थी. रौशनी उर्फ़ रायदा खातुन कटकमसांडी थाना के समीप छल्टा में अपने नाना नानी के साथ रह कर पढ़ाई कर रही थी. बाद में पिता द्वारा छानबीन करने के बाद मामले को संदेहास्पद बता थाने में कांड संख्या 15/2021 के तहत प्राथमिकी दर्ज कराया. दर्ज मामले के बाद पुलिस हरकत में आई और केवला कब्रिस्तान से शव को निकालकर पोस्टमार्टम कराया. इस मौके पर एसडीएम प्रेमचंद सिन्हा, चौपारण सर्किल इंस्पेक्टर रोहित कुमार सिंह, चौपारण थाना प्रभारी विनोद तिर्की, इंस्पेक्टर जगलाल मुंडा, कटकमसांडी थाना प्रभारी अरूण कुमार रवानी सहित केवला गांव के सैकड़ो ग्रामीण मौजूद थे. इधर आवेदन पिता कयाम खान ने बताया कि इस संदर्भ में पता लगाया तो थाने की सिपाही गौरी शंकर मंडल, युवती की मौसी अरमाना खातुन, मौसी अंगूरी खातुन सहित अन्य परिजनों द्वारा शव को कुएं से निकाले जाने की बात कही गई, जबकि निर्माणा कुएं की गहराई पांच फीट है. तब जाकर हमें संदेह हुआ और मैं कानून से सहयोग की गुहार लगाई.