BNN BHARAT NEWS
सच के साथ

3 साल में रेलवे ने दी झारखंड में 41 ओवरब्रिज की स्वीकृति

झारखंड में 2607 किलोमीटर रेलवे लाइन के लिए चल रही 40,020 करोड़ की योजनाएं

3 साल में रेलवे ने दी झारखंड में 41 ओवरब्रिज की स्वीकृति

रांची: रेल मंत्रालय के द्वारा विगत 3 वर्षों में झारखंड सरकार के साथ मिलकर 41 रेलवे ओवरब्रिज की स्वीकृति दी गई है. इनमें 35 रेलवे ओवरब्रिज पर कार्य शुरू कर दिया गया है. शेष पर काम चल रहा है.

इस बात की जानकारी केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने रांची सांसद संजय सेठ व गिरिडीह के सांसद चंद्र प्रकाश चौधरी के द्वारा संयुक्त रूप से लोकसभा में पूछे गए सवाल के जवाब में दी.

दिए गए जवाब में झारखंड में रेलवे से संबंधित चल रही योजनाओं की जानकारी दी गई. यह भी बताया गया कि किसी भी रेल परियोजना को पूरा करने का दारोमदार राज्य सरकार पर निर्भर करता है. भूमि अधिग्रहण, वन विभाग द्वारा वन संबंधी मंजूरी, बाधक, जनउपयोगी सेवा, भौगोलिक व प्राकृतिक परिस्थितियां, कानून एवं व्यवस्था, जलवायु परिस्थिति सहित कई ऐसे घटक हैं; जिन पर रेल योजनाओं के पूर्ण होने का दायित्व होता है.

bnn_add

इन सभी घटकों को पूरा कराने की जिम्मेवारी राज्य सरकार की होती है. बीते 3 वर्षों में झारखंड की सरकार ने इस मामले में सहयोगात्मक रवैया अपनाया है. इस वजह से रेलवे ओवरब्रिज निर्माण का कार्य स्वीकृति काफी आसान हुई है. अन्य परियोजनाओं की जानकारी देते हुए रेल मंत्री ने बताया कि झारखंड में 2607 किलोमीटर लंबाई के लिए 40, 020 करोड़ के योजनाएं चल रही हैं. जिनमें 14 नई रेलवे लाइन और 16 रेलवे लाइन के दोहरीकरण का कार्य शुरू कर दिया गया है. इनकी लागत 25535 करोड़ रुपए है.

इन सभी परियोजनाओं में 10 परियोजनाएं 299 किलोमीटर की लंबाई वाली 5 नई रेल लाइन और 202 किलोमीटर की लंबाई वाली पांच दोहरीकरण परियोजना भी शामिल है. वर्ष 2014-19 के दौरान झारखंड राज्य में आंशिक रूप से पड़ने वाली संरचनात्मक परियोजनाओं एवं अन्य संबंधित कार्यों के लिए वार्षिक बजट 2089 करोड़ रुपए का है. इसके साथ ही 2019 में यह बजट 2493 करोड़ रुपये का किया गया.

हाल ही में झारखंड के गिरिडीह जिले में एक नई रेल परियोजना कोडरमा गिरिडीह का कार्य पूरा कर दिया गया है, जिसका उपयोग आम जनता के यातायात हेतु हो रहा है. यह जानकारी प्रदेश मीडिया प्रभारी संजय पोद्दार ने दी.


बीएनएन भारत बनीं लोगों की पहली पसंद

न्यूज वेबपोर्टल बीएनएन भारत लोगों की पहली पसंद बन गई है. इसका पाठक वर्ग देश ही नहीं विदेशों में भी हैं. खबर प्रकाशित होने के बाद पाठकों के लगातार फोन आ रहे हैं. लॉकडाउन के दौरान कई लोग अपना दुखड़ा भी सुना रहे हैं. हम लोगों को हर संभव सहायता करने का प्रयास कर रहें है. देश-विदेश की खबरों की तुरंत जानकारी के लिए आप भी पढ़ते रहें bnnbharat.com


  • क्या आपको ये रिपोर्ट पसंद आई? हमें लाइक(Like)/फॉलो(Follow) करें फेसबुक(Facebook) - ट्विटर(Twitter) - पर. साथ ही हमारे ख़बरों को शेयर करे.

  • आप अपना सुझाव हमें [email protected] पर भेज सकते हैं.

बीएनएन भारत की अपील कोरोनावायरस महामारी का रूप ले चुका है. सरकार ने इससे बचाव के लिए कम से कम लोगों से मिलने, भीड़ वाले जगहों में नहीं जान, घरों में ही रहने का निर्देश दिया है. बीएनएन भारत का लोगों से आग्रह है कि सरकार के इन निर्देशों का सख्ती से पालन करें. कोरोनावायरस मुक्त झारखंड और भारत बनाने में अपना सहयोग दें.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

gov add