BNN BHARAT NEWS
सच के साथ

वैज्ञानिकों ने बनाया विश्व का सबसे छोटा इंजन, इंजन के मुकाबले 10 अरब गुणा छोटा

प्रकाशित हुआ फिजिकल रिव्यू लेटर्स पत्रिका

118

बर्लिन:  वैज्ञानिकों ने विश्व का सबसे छोटा इंजन बनाया है, जिसका आकार कैल्शियम के एक आयन के बराबर है और कार के इंजन के मुकाबले 10 अरब गुणा छोटा है. इस अनुसंधान में यह समझाया गया है कि अनियमित उतार-चढ़ाव किस प्रकार से सूक्ष्मदर्शी यंत्रों के संचालन को प्रभावित करते हैं.

bhagwati

जर्मनी के जोहानस गुटनबर्ग विश्वविद्यालय के अनुसंधानकर्ताओं के मुताबिक भविष्य में ऐसे उपकरणों को बेकार हुई ऊर्जा को पुनर्चक्रित करने के लिहाज से अन्य प्रौद्योगिकियों में प्रयुक्त कर ऊर्जा क्षमता को बढ़ाया जा सकता है. कैल्शियम के एक आयन जितना बड़ा यह इंजन चार्ज्ड पार्टिकल है और इस वजह से विद्युत क्षेत्र के इस्तेमाल से इसका पता लगा पाना आसान होता है.

अनुसंधानकर्ताओं का कहना है कि थर्मोडायनमिक्स को सूक्ष्मदर्शी यंत्रों के विन्यास में कैसे लागू किया जा सकता है, यह समझना भविष्य की प्रौद्योगिकियों के लिए बहुत आवश्यक है. यह अध्ययन फिजिकल रिव्यू लेटर्स पत्रिका में प्रकाशित हुआ है.
shaktiman

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

yatra
add44