BNN BHARAT NEWS
सच के साथ

शम्मी कपूर: जन्मदिन विशेष जानिए उनके 10 यादगार किस्से

Shammi Kapoor का जन्म 21 अक्टूबर 1931 को हुआ था.

67

तीसरी मंजिल, कश्मीर की कली, ब्रह्मचारी और जंगली जैसी सुपहिट फिल्मों से 60 के दौर में बॉलीवुड पर राज करने वाले शम्मी कपूर की गिनती बॉलीवुड के बेहतरीन एक्टर्स में की जाती है.

1- शमशेर राज कपूर उर्फ शम्मी कपूर(Shammi Kapoor) का जन्म 21 अक्टूबर 1931 को हुआ था. बता दें कि शम्मी कपूर अपने परिवार के अकेले बच्चे थे जिनकी डिलीवरी अस्पताल में हुई थी. वहीं, उनके पैदा होने के बाद उन्हें राजकुमारों की तरह पाला गया.

2- शम्मी कपूर को अपने बड़े भाई राज कपूर(Raj Kapoor) की वजह से स्कूल छोड़ना पड़ा था. दरअसल, पृथ्वी थियेटर्स में शम्मी को शकुंतला नाटक में भरत का रोल मिला था. इस नाटक में राज कपूर का भी बड़ा रोल था लेकिन रिहर्सल करने के लिए राज को स्कूल से छुट्टी नहीं मिल रही थी तो वो अपनी प्रिसिंपल से लड़कर स्कूल छोड़ आए, जिसके बाद शम्मी को भी स्कूल छोड़ना पड़ा.

3- पढ़ाई छोड़ने के बाद शम्मी ने पापा पृथ्वी से माफी भी मांगी और थियेटर ज्वॉइन कर लिया, और उन्हें थियेटर में काम करने के लिए 50 रुपय की पगार मिलती थी.

4- शम्मी कपूर भारतीय सिनेमा के वो अभिनेता हैं, जिन्होंने बॉलीवुड एक्टर्स के डांस करने के चलन की शुरुआत की.

bhagwati

5- एक्ट्रेस नूतन शम्मी कपूर की बचपन की दोस्त थी, तबकी जब शम्मी 6 और नूतन 3 साल की थी, इन दोनों ने 1953 में आई फिल्म ‘लैला मजनू‘ में एक साथ काम किया.


6- शम्मी कपूर को हिंदी गानों के मुकाबले पहाड़ी गाने ज्यादा पसंद थे इसलिए वह खाली समय में पहाड़ी गाने गुनगुनाया करते थे.

7- 1964 की फिल्म राजकुमार की शूटिंग के दौरान शम्मी कपूर का पैर टूट गया था. दरअसल, वह हाथी के ऊपर बैठकर शूट कर रहे थे, तभी अचानक एक हादसा हुआ जिसकी वजह से वो गिरे और उनका पैट टूटा। हालांकि ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट रही.

8- शम्मी कपूर को गैजेट्स(gadgets) काफी पसंद थे, उन्होंने साल 1988 में कंप्यूटर के बारे में जाना और उसका इस्तेमाल शुरु किया, तब उनकी उम्र 57-58 साल की थी और वो उन चंद शुरुआती लोगों में से एक थे जिन्होंने भारत में इंटरनेट का इस्तेमाल सबसे पहले किया.


9- साल 1955 में शम्मी और गीता बाली ने शादी कि, इन दोनों की मुलाकात और शादी का किस्सा भी गजब है, शम्मी जब गीता से मिले तो वो पहले से ही एक सक्सेसफुल एक्ट्रेस थी, और शम्मी ने अभी तक अपना पहला बड़ा ब्रेक मिलने के लिए हाथ पैर ही मार रहे थे, तो ऐसे में वो गीता से अपने मन की बात करने में बहुत हिचकते थे, मगर जल्द ही दोनों के बीच प्यार हो गया.

10- शम्मी कपूर और गीता जब शादी करने मंदिर पहुंचे तो वहां के दरवाजे बंद हो चुके थे, पुजारी ने शादी कराने से भी मना कर दिया, मगर शम्मी की जिद के आगे किसी की कहां चलने वाली, सबसे चार बजे कपाट खुलते ही शम्मी और गीता की शादी हुई, क्योंकि परिवार के डर से दोनों छिप छिपा के शादी कर रहे थे इसलिए शादी के लिए सिंदूर लाना दोनों भूल गये, तब ऐसे में शम्मी ने लिपस्टिक से गीता बाली की मांग भरी थी.

gold_zim

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

yatra
add44