BNN BHARAT NEWS
सच के साथ

तबरेज और पाहन का खून अलग कैसे ?

तबरेज के साथ किया कृत्य भी गलत था और पाहन के साथ जो हुआ वह भी निंदनीय है

24

भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष रामकुमार पाहन गुरुवार को अरगोड़ा थाना क्षेत्र के सरना टोली निवासी स्व. मंगरू पाहन के परिजनों से मिलने गये थे। रामकुमार ने स्व. पाहन के परिवार वालों को हरसंभव सहयोग करने का आश्वासन दिया।

मंगरू पाहन गत दिनों मॉब लिंचिंग का शिकार हो गये थे। पाहन ने कहा कि एक आदिवासी समाज का निर्दोष व्यक्ति मंगरु पाहन की एक धर्म विशेष के तीन युवकों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी और उसको लेकर विपक्षी दलों के नेताओं के कान में जूं तक नहीं रेंगा।

वहीं दूसरी ओर झारखंड के सरायकेला में चोरी करते हुए तबरेज के पकड़े जाने और पिटाई से उसकी मौत पर पूरा विपक्ष देशभर में हाय-तौबा मचाये हुए है, लोग संप्रदाय देखकर अपनी झूठी सहानुभूति बटोरते हैं और इस पर राजनीति करते हैं।

ऐसे देश तोड़ने वाले व्यक्तियों को चिन्हित कर उन पर कार्यवाई की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि विपक्षी दलों का समुदाय के आधार पर दोहरा रवैया देश की एकता के लिए घातक है।

bhagwati

मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष अशोक बड़ाईक ने कहा कि 21 जून को तीन युवकों रमजान अंसारी उर्फ चरकू, मोहम्मद साजिद उर्फ छोटू और अजमत अंसारी सरना स्थल के सामने नशा कर रहे थे।

मंगरु पाहन ने उनको नशा करने से मना किया तो तीनों ने मिलकर उसे बेरहमी से मारा। इस दौरान जब उनके घर वाले बचाने आये तो उसे भी गाली-गलौज करते हुए धमकाने लगे। इसके बाद तीनों युवकों ने मिलकर मंगरु पाहन की बेरहमी से चाकू मारकर हत्या कर दी।

POSTED BY:- BEENA RAI

gold_zim

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

yatra
add44