SACH KE SATH
add_doc_3
add_doctor

उपायुक्त ने की जिले के निजी अस्पताल प्रबंधकों के साथ बैठक कोविड संक्रमित मरीजों हेतु बेड आरक्षित करने का दिया निर्देश


धनबाद:- गुरुवार को उपायुक्त उमा शंकर सिंह की अध्यक्षता में जिले के निजी अस्पताल प्रबंधकों के साथ समाहरणालय के सभागार में बैठक का आयोजन किया गया.
बैठक में उपायुक्त ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा सभी निजी अस्पतालों को उनकी कुल सामान्य बेड क्षमता के न्यूनतम 10प्रतिशत से 25प्रतिशत एवं आईसीयू में भी न्यूनतम 10प्रतिशत से 25प्रतिशत बेड कोविड-19 संक्रमित मरीजों के उपचार हेतु आरक्षित रखने का तथा मरीजों का समुचित उपचार सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है.
उन्होंने निजी अस्पताल के प्रबंधकों से एक-एक कर उनके अस्पताल में सामान्य एवं आईसीयू बेड की क्षमता तथा अन्य उपलब्ध संसाधनों के विषय में विस्तार से विचार विमर्श किया.
उन्होंने कहा कि संक्रमित मरीजों का उपचार राज्य सरकार द्वारा निर्धारित दरों एवं शर्तों पर किया जाएगा. परंतु यह भी देखना अत्यंत आवश्यक है कि मरीज की सुरक्षा एवं उसके इलाज में किसी प्रकार का कोई समझौता नहीं हो.
उपायुक्त ने सभी अस्पताल प्रबंधकों से कहा कि अपने आंतरिक संसाधनों को मोबिलाइज करें एवं मरीजों के उचित इलाज की व्यवस्था सुनिश्चित करें. साथ ही निर्धारित प्रोटोकॉल का पालन कर उपकरण, दवाई तथा अन्य सामग्रियों की उपलब्धता अगले दो दिनों में करना सुनिश्चित करें.
उन्होंने कहा कि 11 अप्रैल 2021 से सभी चयनित निजी अस्पतालों में संक्रमित मरीजों को उपचार हेतु भर्ती किया जा सकता है. साथ ही प्रत्येक 15 दिन के अंतराल पर विशेषज्ञों की टीम द्वारा इलाज एवं व्यवस्थाओं का ऑडिट कराया जाएगा.
बैठक में उपायुक्त उमा शंकर सिंह, अपर समाहर्ता श्याम नारायण राम, सिविल सर्जन डॉ गोपाल दास, अनुमंडल पदाधिकारी सुरेंद्र कुमार, एसएनएमएमसीएच के डॉ यू के ओझा, आईडीएसपी नोडल डॉ राजकुमार सिंह, जिला आपदा प्रबंधन संजय झा तथा एशियन जालान अस्पताल, अशर्फी अस्पताल, प्रगति नर्सिंग होम, जिम्स अस्पताल तथा जसलोक अस्पताल धनबाद के प्रतिनिधि सहित अन्य लोग उपस्थित रहे.