BNN BHARAT NEWS
सच के साथ

हमारी पौराणिक संस्कृति की पहचान है यह शिव मंदिर : राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू

77

संजय कुमार
बोकारो: बोकारो के चंदनकियारी में राजकीय भैरव महोत्सव का प्रदेश की महामहिम राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने शुभारंभ किया. इस अवसर पर उन्होंने विरासत नामक एक पुस्तक का भी विमोचन किया. इससे पूर्व उन्होंने प्राचीन भैरव मंदिर में पूजा अर्चना भी की. महामहिम ने कहा की यह शिव मंदिर हमारी पौराणिक संस्कृति की पहचान है. इसका संरक्षण और विकास हम सब का कर्तव्य है. महामहिम ने कहा कि यह मंदिर चौथी सदी से यहां स्थापित है, और आज हम सब 21वीं सदी में हैं.

उन्होंने कहा कि झारखंड कला संस्कृति से परिपूर्ण राज्य है. यहां के मंदिर, प्राकृतिक सौंदर्य, कला संस्कृति अन्य राज्यों से भिन्न है. यहां के पर्यटन स्थल को प्रचार प्रसार की जरूरत है. सरकार राज्य के पर्यटन स्थलों को विकसित कर रही है. आगे भी यह काम होता रहेगा.

bhagwati

महामहिम ने कहा कि मुझे चंदनकियारी की इस धरती पर आ कर खुशी महसूस हो रही है. साथ ही उन्होंने कहा कि हम सभी को इस प्राचीन मंदिर की महत्ता को समझने की आवश्यकता है. इसका धार्मिक महत्व है. यहां के पानी से लोग रोगमुक्त हो जाते हैं.

महामहिम ने आगे कहा कि भैरव धाम को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करना हम सबका कर्तव्य है. राज्य सरकार और जिला प्रशासन इस दिशा में काम कर रही है. चंदनकियारी के लोगों का भी कर्तव्य है कि वे इस धाम को सुरक्षित रखें.

2 दिनों तक चलने वाले भैरव महोत्सव में झारखंड की संस्कृति की झलक लोगों को देखने को मिलेगी. इसके अलावा राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ख्याति प्राप्त ममता शर्मा और दिलेर मेहंदी के गानों का भी लोग लुफ़्त ले सकेंगे.

gold_zim

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

yatra
add44