SACH KE SATH
add_doc_3
add_doctor

रांची जिला प्रशासन की अनोखी कार्यशैलीः रिटायर एक्जीक्यूटिव इंजीनियर को मजिस्ट्रेट के रूप में लगाई ड्यूटी

रांचीः रांची जिला प्रशासन की कार्यशैली भी अजीव है.  जिला प्रशासन की ओर से जनवरी में सेवानिवृत्त हो चुके एक कार्यपालक अभियंता की ड्यूटी मजिस्ट्रेट के रूप में लगा दी गई है. सिंचाई विभाग में पदस्थापित रहे कार्यपालक अभियंता का नाम अशोक कुमार है.

जिला प्रशासन की तरफ से जारी आदेश में इन्हें बिरसा चौक हटिया एवं तुपुदाना ओपी क्षेत्र में कोविड-19 के लिए निर्धारित मापदंडों का अनुपालन कराने की जिम्मेदारी सौंपी गई है.

सिंचाई विभाग के कार्यपालक अभियंता अशोक कुमार ने कहा कि उन्होंने अपने सेवानिवृत्त होने की जानकारी पूर्व में ही जिला प्रशासन को दे दी. इसके बावजूद उनके नाम पर अधिसूचना जारी की गई है.

उन्होंने कहा कि वह इस मामले में एक बार फिर जिला प्रशासन के समक्ष अपनी अपील रखेंगे. सेवानिवृत्त हुए तीन माह से अधिक समय गुजर गया है. इसके बावजूद उनका नाम अब तक सेवा देने वाले अधिकारियों की सूची में रखा गया है.

रांची जिला प्रशासन की तरफ से हालात को नियंत्रण में लाने के तमाम दावे किए जा रहा है. अधिसूचना में सेवानिवृत्त अधिकारियों का नाम शामिल किए जाने के बाद सवाल खड़े हो रहे हैं.