BNN BHARAT NEWS
सच के साथ

बुरुगुलीकेरा गांव के पीड़ित परिवारों को मिला योजनाओं का लाभ

50 हजार के चेक के साथ कईयों को मिली स्वावलंबन की राह

509

चाईबासः पश्चिमी सिंहभूम जिले के उपायुक्त अरवा राजकमल ने बताया कि गुदड़ी प्रखंड के बुरुगुलीकेरा गांव में पीड़ित परिवारें के बीच ग्रुप बनाते हुए उन्हें प्रशिक्षित करने के साथ ही वित्तीय सहायत उपलब्ध करवाते हुए रोजगार से जोड़

ने का कार्य किया ज रहा है. पीड़ित परिवारों में वैसी महिलाएं जो कार्य करने में सक्षम है, उनका चयन करते हुए तीन स्वयं सहायता समूह का गठन करते हुए उनके स्वाबलंबन बनने के लिए विशेष केंद्रीय सहायता मद से तीन पोल्ट्री शेड निर्माण के लिए 1.66 लाख रुपये का सहयोग जिला प्रशासन द्वारा दिया गया है.

वहीं जेएसएलपीएस के माध्यम से स्वावलंबन योजना के तहत सातों परिवार के बीच चार मादा और एक नर बकरी का वितरण किया गया है. इसके अलावा झारखंड पीड़ित क्षतिपूर्ति योजन के तहत राज्य सरकार द्वारा पारित नियम के अनुसार हत्या के मुकदमे में पीड़ित महिला के न्यूनतम पांच लाख और अधिकतम दस लाख रुपये तक की राशि जिल न्यायाधीश की अध्यक्षता में गठित समिति के समक्ष आवेदन प्रस्तुत करने केउपरंत समिति के निर्णय में राशि की अनुशंसा राज्य सरकर से की जाएगी.

bhagwati

अभी इस योजना के तहत अग्रिम राशि के रूप में 50 हजार रुपये की राशि का चेक पीड़ित परिवारों को उपलब्ध कराया गया है. इसके साथ् ही पीड़ित परिवारों की महिलओं कोराष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना के तहत 20 हजार रुपये तथा मुख्यमंत्री राज्य विधवा सम्मान पेंशन योजना के तहत फरवरी महीने में एक हजार रुपये प्रतिमह स्वीकृत की गयी है.

उपायुक्त द्वारा बताया गया कि गांव में मनरेगा के तहत आठ योजनाओं के तहत मिट्टी मुरूम सड़क निर्माण योजन को स्वीकृति दी गयी है। वहीं पीड़ित परिवारों में वृद्ध माताओं के इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धापेंशन योजना के तहत फरवरी से एक-एक हजार रुपये प्रतिमाह की स्वीकृति प्रदान की गयी है.

वहीं गांव में खेती कोइच्छुक 9 किसानों को कृषि विभाग के द्वार डबल क्रॉपिंग राइस एरिया के तहत कृषि करने के लिए प्रोत्साहित राशि देकर उनकी इच्छानुसार फसल के बीच भी उपलब्ध कराएं जाएंगे.

gold_zim

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

add44