BNN BHARAT NEWS
सच के साथ

क्यों हैं अब तक कुछ घर शौचालय से वंचित, कुर्सी तोड़ने के लिए नहीं है कार्यालय : रघुवर दास

आंगनबाड़ी केंद्र का संचालन घर में क्यों किया जा रहा है, ऐसे में वहां हो रहा होगा भ्रष्टाचार

74

सिरिंगसिया/चाईबासा: मुख्यमंत्री रघुवर दास का मन खूब रमता है जन चौपाल में. आज चाईबासा के टोंटो प्रखंड के सिरिंगसिया पंचायत में आयोजित जन चौपाल लगा कर मुख्यमंत्री ने राज्य के ग्रामीणों को संदेश दिया कि मैं समस्त राज्य के सवा तीन करोड़ लोगों का हूं. गांव में जन चौपाल लगाकर मुख्यमंत्री ने गांववालों तक विकास की रौशनी पहुंचाने और उनकी अपेक्षाओं और उम्मीदों को समझने का कार्य किया.

मुख्यमंत्री ने कहा कि क्या कर रहें हैं आप प्रखण्ड के अधिकारी. क्यों अब तक कुछ घर शौचालय से वंचित हैं? इस कार्य संस्कृति को बदलें. कौन हैं टोंटो प्रखण्ड के बीडीओ…इधर आएं….. क्यों उठ रहे हैं सवाल …जिन्हें काम नहीं करना है उन्हें सरकार वीआरएस दे देगी. सिर्फ कुर्सी तोड़ने के लिए कार्यालय नहीं है. शासन नहीं सेवा करें. डीडीसी आप मुझे इस मामले में पूरी रिपोर्ट दीजिए.

टोंटो की रिवाली करवा ने मुख्यमंत्री को अपने गांव के कुछ घरों में शौचालय निर्माण नहीं होने की शिकायत दर्ज की थी. मुख्यमंत्री ने कहा कि मैंने पिछले दिनों चाईबासा का दौरा किया था. मुझे लगा कि सभी ग्रामीणों को योजनाओं का लाभ पूरी तरह नहीं मिला है. यही वजह है कि मैं आपके बीच आया हूं. आपको जगाने के लिए आयोजित है यह जन चौपाल. मुझे खुशी है आप जग रहें हैं.

शहर में नहीं रहें अधिकारी, गांव-गांव जाएं

मुख्यमंत्री ने महिला की शिकायत पर कहा कि आंगनबाड़ी केंद्र का संचालन घर में क्यों किया जा रहा है, ऐसे में वहां भ्रष्टाचार हो रहा होगा. चाईबासा के अधिकारी और पदाधिकारी आप क्या आप सिर्फ चाईबासा में ही घूमते हैं. गांव की ओर नहीं जाते आप. सभी शहर में कम और गांव का दौरा अधिक करें. वहां की समस्याओं को जाने और उसे दूर करने का प्रयास करें. सरकार आदिवासियों के विकास के साथ कोई समझौता नहीं कर सकती है. आप सभी ग्रामीणों का हक है कि अधिकारी और पदाधिकारी को गांव के घर-घर तक बुलाएं.

जमीन लीज पर देने वालों को काम भी मिले

जन चौपाल के क्रम में एक महिला ने मुख्यमंत्री को बताया कि उनका क्षेत्र औद्योगिक क्षेत्र में आता है. कंपनी जमीन लीज पर ले लेती है. लेकिन काम नहीं देती. हमें कहती है अशिक्षित को कैसे काम देंगे. इसपर मुख्यमंत्री ने डीडीसी को निर्देश दिया है कि कंपनी वालों के साथ बैठक कर जमीन देने वालों को रोजगार दें. उन्हें प्रशिक्षण देकर नौकरी करने योग्य बनाएं.

मुआवजा राशि सरकार करेगी हस्तांतरित

टोंटो के अशोक हांसदा ने मुख्यमंत्री से कहा कि सड़क चौड़ीकरण में उनकी जमीन गई, लेकिन अबतक मुआवजा नहीं मिला. हमने सभी कागजात जमा कर दिए हैं. इसपर मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार जल्द आप सभी को मुआवजा देगी. चाईबासा को उक्त राशि जल्द हस्तांतरित की जाएगी.

63 लाख की राशि से होगा पुल का निर्माण

सीलसिया गांव की एक महिला ने मुख्यमंत्री को बताया कि शहीद स्मारक का सुंदरीकरण हो रहा है. लेकिन मुख्य सड़क पर पुल निर्माण नहीं हुआ है, जिससे परेशानी हो रही है. मुख्यमंत्री ने कहा कि आप सभी इस तरह विकास की भूख जगाएं. बहन जी आपके गांव में 63 लाख की लागत से पुल का निर्माण होगा. संविदा की प्रक्रिया आरम्भ हो चुकी है.

इस अवसर पर प्रभारी जिला उपायुक्त सह उपविकास आयुक्त आदित्य रंजन, जिला परिषद अध्यक्षा  लालमुनि पुरती, टी.ए.सी सदस्य जे.बी तुबिद, बीस सूत्री उपाध्यक्ष संजू पांडे, पूर्व मंत्री बड़कुंवर गागरई, सदस्य बीस सूत्री गुरुदेव दास, पूर्व विधायक पुतकर हेम्ब्रम सहित जिले के तमाम पदाधिकारी व ग्रामीण उपस्थित थे.

bhagwati

मुख्यमंत्री ने इन योजनाओं का किया उद्घाटन व शिलान्यास…

●विशेष केंद्रीय सहायता निधि एवं आकांक्षी जिला निधि से ₹8.54 करोड़ की लागत से पूरे जिले में 29 पी.सी.सी पथ का निर्माण कार्य योजना का उद्घाटन.

●विशेष केंद्रीय सहायता निधि मद से जिले के सभी 18 प्रखंडों में महिलाओं के लिए सिलाई सेंटर केंद्र योजना का शिलान्यास.

●आकांक्षी जिला निधि मद से ₹204.00 लाख रुपए की लागत से जिले के 20 विद्यालयों में स्मार्ट क्लासरूम का उद्घाटन एवं 40 विद्यालयों में स्मार्ट क्लासरूम का शिलान्यास.

●जिला खनिज निधि के तहत ₹782.52 लाख की लागत से मुख्यमंत्री वृहत ग्रामीण जलापूर्ति योजना अंतर्गत जिला के चक्रधरपुर प्रखंड के केरा ग्राम एवं समीपवर्ती ग्रामों में ग्रामीण जलापूर्ति योजना का उद्घाटन.

●विशेष केंद्रीय सहायता निधि एवं आकांक्षी जिला निधि के तहत प्रखंड बंदगांव,सोनुवा एवं गोइलकेरा में दो करोड़ रुपए की लागत से सोलर स्ट्रीट लाइट योजना का शिलान्यास.

●जिला खनिज निधि एवं आकांक्षी जिला निधि से पूरे जिला में 2500 लाभूकों के बीच ₹3250.00 लाख से अंबेडकर आवास योजना का लाभ.

●14वें वित्त आयोग निधि से पूरे जिले में 14,320 एल.इ.डी स्ट्रीट लाइट 424 पेभर ब्लॉक आधारित सड़क एवं 501 सौर ऊर्जा आधारित पेयजल योजना का उद्घाटन.

●जिला खनिज निधि के तहत ₹1397.80 लाख की राशि से मुख्यमंत्री वृहत ग्रामीण जलापूर्ति योजना अंतर्गत जिले के तांतनगर प्रखंड के काठभारी एवं समीपवर्ती ग्रामों में ग्रामीण जलापूर्ति योजना का शिलान्यास.

●जिला खनिज नीति के तहत ₹ 5572.86 लाख की राशि से जिले के झींकपानी प्रखंड एवं समीपवर्ती ग्रामों में ग्रामीण जलापूर्ति योजना का उद्घाटन.

●विशेष केंद्रीय सहायता निधि से टोंटो प्रखंड अंतर्गत ₹63.21 लाख की राशि से सिरिंगसिया पंचायत भवन से दिरूसाई ग्राम तक 1790 मी सड़क का मरम्मत एवं कालीकरण.

●जिला परिषद पश्चिमी सिंहभूम चाईबासा के आय का स्रोत निधि से ₹99.83 लाख की राशि से चाईबासा शहर में अत्याधुनिक मॉल निर्माण कार्य का शिलान्यास.

shaktiman

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

yatra
add44