BNNBHARAT NEWS
Sach Ke Sath

यौन उत्पीड़न की शिकायत इस एप के जरिए कर सकेंगी महिलाएं, जानकारी रखी जाएगी गुप्त

पीड़ितों को मेडिकल के साथ-साथ मिलेगी कानूनी मदद

534

नई दिल्ली: अब यौन दुर्व्यवहार की शिकायत करने के लिए महिलाओं को थाने का चक्कर नहीं काटना होगा. जी हां आपने बिलकुल सही सुना भारत में महिलाएं यौन दुर्व्यवहार की शिकायत अब एक एप के जरिए आसानी से कर सकेंगी. इसके लिए उन्हें अब थाने का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा. इस एप के जरिए महिलाएं कानूनी सहायता ले सकेंगी और साथ ही उन्हें मेडिकल सुविधाएं भी दी जाएंगी. इस एप के जरिए महिलाएं उन मुद्दों की रिपोर्टिंग भी कर सकेंगी जिनकी रिपोर्टिंग आमतौर पर नहीं हो पाती है.

यह एप अगले सप्ताह लॉन्च होगा

इस एप का नाम स्शमैबोर्ड (Smashboard) है जो कि पूरी तरह से प्राइवेट और इंक्रिप्टेट होगा. इस एप के जरिए यौन पीड़ित महिलाएं फोटो, स्क्रीनशॉट, कोई डॉक्यूमेंट, वीडियो और ऑडियो सबूत के तौर पर सेव कर सकेंगी. इसकी जानकारी इस एप के को-फाउंडर नूपूर तिवारी ने एक न्यूज एजेंसी को दी. इस एप के जरिए पीड़ितों को मेडिकल के साथ-साथ कानूनी मदद मिलेगी. तिवारी के मुताबिक स्मैशबोर्ड एप यूजर की लोकेशन को ट्रैक नहीं करेगा. साथ ही डाटा के साथ किसी तरह की कोई छेड़छाड़ नहीं होगी.

महिलाओं के लिए सबसे खतरनाक देश बना भारत

थॉमसन रॉयटर 2018 के सर्वे के मुताबिक महिलाओं के लिए सबसे खतरनाक देशों की लिस्ट में भारत सबसे ऊपर है. वहीं भारत सरकार के ताजा आंकड़ों के मुताबिक साल 2017 में महज 90 दिनों में रेप की 32,500 शिकायतें दर्ज की गई हैं. भारत में धीमी कानूनी प्रक्रिया के कारण भी कई केस दर्ज ही नहीं होते. साथ ही शिकायत करने वाली महिलाओं पर हमले भी होते हैं. ये बातें मानवाधिकार के लिए काम करने वाले एक सदस्य ने कही.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

ajmani