BNN BHARAT NEWS
सच के साथ

निष्पक्ष और शांतिपूर्ण चुनाव संपन्न कराने के लिए प्रशासन हरसंभव क़दम उठायेगा: उपायुक्त

87

चुनाव में इको फ़्रेंडली प्रचार सामग्री का उपयोग करने की उपायुक्त ने की अपील।

कोडरमा: समाहरणालय सभागार में जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त रमेश घोलप ने शनिवार को एक प्रेस वार्ता आयोजित कर बताया कि
भारत निर्वाचन आयोग ने झारखंड विधानसभा आम चुनाव 2019 की घोषणा कर दी है। इसके अनुसार 19-कोडरमा विधानसभा, 20-बरकट्ठा विधानसभा क्षेत्र एवं 21-बरही विधानसभा क्षेत्र के लिए तृतीय चरण में 12 दिसंबर को मतदान होना है। चुनाव की अधिसूचना 16 नवंबर, नामांकन की अंतिम तिथि 25 नवंबर, नामांकन प्रपत्रों की स्क्रुटनी 26 नवंबर, नाम वापसी की अंतिम तिथि 28 नंवबर, मतदान की तिथि 12 दिसंबर, मतगणना की तिथि 23 दिसंबर निर्धारित की गई है।

bhagwati

जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त ने बताया कि जिले में तीन विधानसभा क्षेत्र आते है, जिसके लिए निर्वाची पदाधिकारी 19-कोडरमा विधानसभा के लिए अनुमंडल पदाधिकारी श्री विजय वर्मा, 20-बरकट्ठा विधानसभा के लिए भूमि सुधार उपसमाहर्ता, बरही एवं 21-बरही (अंश) विस के लिए अनुमंडल पदाधिकारी, बरही को बनाया गया है।

जिले में कुल 551 मतदान केंद्र

कोडरमा जिले 19-कोडरमा विधानसभा, 20-बरकट्ठा विधानसभा क्षेत्र एवं 21-बरही विधानसभा क्षेत्र पड़ते हैं। स्वच्छ, स्वतंत्र एवं निष्पक्ष निर्वाचन हेतु कोडरमा जिले को 81 सेक्टरों में विभाजित करते हुए प्रत्येक सेक्टर पर सेक्टर पदाधिकारी एवं सेक्टर पुलिस पदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की गयी है। जिले के कुल 401 भवनों में कुल 551 मतदान केंद्र हैं। जिसमें से 19-कोडरमा विधानसभा में 352 मतदान केंद्र, 20-बरकट्ठा विधानसभा क्षेत्र में 146 एवं 21-बरही विधानसभा क्षेत्र में 53 मतदान केंद्र पड़ते है। गौरतलब है कि जिले में कुल मतदाताओं की संख्या 4,72,901 है, जिसमें पुरूष मतदाताओं की संख्या तीनों विधानसभा क्षेत्र में 2,48,530 है। वहीं महिला मतदाताओं की संख्या कुल 2,24,366 है। दूसरी ओर दिव्यांग मतदाताओं की कुल संख्या 4223 है। वहीं जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त ने विभिन्न कोषांगों द्वारा की गई अब तक की कार्रवाई को विस्तार से बताया। उन्होंने कहा कि निर्वाचन कार्य को सुचारू रूप से संचालित करने के लिए कुल 16 कोषांग का गठन किया गया है। आसन्न विधान सभा आम चुनाव 2019 के स्वच्छ, पारदर्शी एवं भेदभाव रहित किर्यान्वयन हेतु जिला स्तरीय एमसीएमसी का गठन किया गया है। जिला स्तर पर विधानसभा चुनाव 2019 के निमित अभ्यर्थियो के दिन प्रतिदिन के निर्वाचन व्यय के अनुश्रवण हेतु विधानसभा वार विभिन्न निर्वाचन व्यय अनुश्रवण समितियों का गठन किया गया है। इसमें असिस्टेंट एक्सपर्निचर ऑबजवर, एकाउटिंग टीम, विडियो विविंग टीम, विडियो सर्विलांस टीम, एमसीएमसी एवं एक्सपर्निचर मॉनिट्ररिंग सेल हैं। उपायुक्त श्री घोलप ने
आदर्श आचार संहिता की जानकारी देते हुए कहा कि कोडरमा जिले में स्वंतत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण निर्वाचन संपन्न कराने के लिए जिला प्रशासन कटिबद्ध है। अब आदर्श आचार संहिता प्रभावी हो गयी है। उक्त संहिता सरकार, सरकारी कर्मी और राजनीतिक दल एवं सभी प्रत्याशी पर समान रूप से लागू है। जिला प्रशासन इसका अनुपालन कराना सुनिश्चित करेगी। विधान सभा निर्वचान 2019 के निमित निर्वाचन व्यय की निगरानी एवं आदर्श आचार संहिता के अनुपालन सुनिश्चित कराने हेतु जिला अंतर्गत विधान सभा वार 09-09 उड़नदस्ता दल (एफएसटी) एवं स्टैटिक सर्विलांस टीम (एसएसटी) का गठन किया गया है। उन्होंने बताया कि 19-कोडरमा विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र अंतर्गत कुल 92 मतदान केंद्रों में वेबकास्टिंग का प्रस्ताव विभाग को भेज गया है एवं 06 मतदान केंद्रों के स्थल/भवन परिवर्तन के प्रस्ताव को भारत निर्वाचन आयोग अग्रसारित किया गया है।
वहीं इवीएम/वीवीपैट का भी प्रशिक्षण दिया जा रहा है।
जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि चुनाव के लेकर ईवीएम/वीवीपैट का उपयोग किया जा रहा है। ईवीएम/वीवीपैट के संचालन एवं प्रयोग के निमित विस्तृत जानकारी देने हेतु जिला, प्रखंड, गांव,टोलों में ईवीएम/वीवीपैट जागरुकता/प्रशिक्षण कैंप का आय़ोजन किया जा रहा है। अबतक 442 मतदान केंद्रों नें 32933 लोगों को मॉकपोल कराया गया है। आसन्न विधान सभा निर्वाचन 2019 के निमित आईटीआई लोकाई कोडरमा में वज्रगृह एवं मतगणना केंद्र की स्थापना का प्रस्ताव मंत्रीमंडल (निर्वाचन) विभाग, झारखंड सरकार को भेज गया है। उन्होंने बताया कि सी.विजिल एप्प की दी जानकारी दी जा रही है। जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि आदर्श आचार संहिता संबंधी ऑनलाइन शिकायतों के प्राप्ति एवं निष्पादन हेतु सी-विजिल एप्प शुरु किया गया है, जिसके अंतर्गत प्राप्त शिकायतों को 100 मिनट के अंदर निष्पादित किया जायेगा। उन्होंने बताया कि जितने भी सरकारी कल्याणकारी योजनाओं के बैनर व होर्डिंग विभिन्न स्कूलों, बाजारों, पंचायत व प्रखंड कार्यालयों में लगे हैं। उन्हें अविलंब हटाने का निर्देश जिला एवं प्रखंड स्तर के पदाधिकारियों को दिया गया है। जिला स्तर से इसकी निगरानी हो रही है। वहीं
पुलिस अधीक्षक डॉ. एम. तमिल
वाणन ने बताया कि संवेदनशील, अतिसंवेदनशील मतदान केंद्रों का आकलन कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि पूरे जिले में 327 आर्म्स हैं, जिसकी वेरिफेक्शन किया जा रहा है औऱ 40 आर्म्स को जमा कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि सभी मतदान केंद्रों पर पुलिस बल तैनात रहेंगे। बूथ, सेक्टर एवं मोबाइल दस्त लेवल पर सिक्युरिटी की जायेगी ताकि चुनाव के दौरान विधि व्यवस्था बनाये रखने में किसी प्रकार की समस्या हो तुरंत समस्या हल किया जा सके। निष्पक्ष चुनाव हेतु इंटर स्टेट मीटिंग की गयी है। आदर्श आचार संहिता लागू होते ही एफएसटी एवं एसएसटी टीम कार्य शुरू कर दिया है। इस मौके पर वन प्रमंडल पदाधिकारी सूरज कुमार सिंह, अपर समाहर्ता अनिल तिर्की, अनुमंडल पदाधिकारी विजय वर्मा, कार्यपालक दण्डाधिकारी संतोष कुमार सिंह, जिला सूचना विज्ञान पदाधिकारी सुभाष यादव मौजूद थे।

shaktiman

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

yatra
add44