BNN BHARAT NEWS
सच के साथ

सरकारी जमीन का अतिक्रमण कर ठाठ से चल रहा है हजारीबाग का ए.के. इंटरनेशनल होटल

खास बातें:-

  • मुख्यमंत्री जनसंवाद में भी पहुंचा था मामला, पर मामले की हो गई लीपापोती

  • होटल ने अपने पश्चिमी तरफ सरकारी जमीन पर कर रखा है कब्जा

  • कार्रवाई करने के आदेश के बावजूद नहीं हुई अब तक कार्रवाई

हजारीबाग: हजारीबाग शहर के मटवारी गांधी मैदान के समीप स्थित ए.के. इंटरनेशनल होटल संचालन सरकारी जमीन पर अतिक्रमण कर ठाठ से हो रहा है. बार-बार शिकायत के बावजूद अब तक किसी के द्वारा कोई जांच या नापी नहीं कराई गई.

हजारीबाग के RTI कार्यकर्ता चितरंजन गुप्ता के अनुसार,  RTI के जरिये ए.के. इंटरनेशनल होटल के जमीन का कागजात कई बार मांगे गए, लेकिन इसे उपलब्ध नहीं कराया गया.

मुख्यमंत्री जनसंवाद में भी शिकायत की गई लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई. उन्होंने बताया कि मामला हाई प्रोफाइल है, इसलिए प्रशासन ने भी चुप्पी साध ली है. कई सफेदपोश उस होटल में शरण लेते हैं. होटल प्रबंधन पर भी प्रशासन से मिलीभगत है.”

नेशनल हाइवे का जमीन किया है अतिक्रमण

bnn_add

आरटीआई कार्यकर्ता ने बताया कि होटल के सामने नेशनल हाईवे का लगभग 10 फीट जमीन होटल प्रबंधन से अतिक्रमण कर रखा है. होटल के पश्चिमी किनारा का लगभग 15 X100 फीट का अतिक्रमण में है. जबकि होटल के द्वारा खरीदी गई जमीन लगभग 12 डिसमिल ही है, लेकिन वर्तमान में होटल का कुल एरिया लगभग 24 डिसमिल है.

इस मामले में 22-6-2019 को एक RTI कार्यकर्ता चितरंजन द्वारा मुख्यमंत्री जनसंवाद में इस होटल के द्वारा की गई अतिक्रमण की शिकायत की गई थी.

क्या कहते हैं डॉ आर.के. शाही

समाजसेवी डॉ आनंद शाही का कहना है कि ए.के. इंटरनेशनल होटल ने सरकारी रास्ता पर अतिक्रमण कर रखा है और ए.के. इंटरनेशनल का मुख्य भवन का कुछ हिस्सा भी अतिक्रमण वाले जमीन पर बना है.

डॉ शाही ने आगे बताया कि अगर ठीक से जांच किया जाय तो लगभग 12 डिसमिल जमीन सरकार का निकलेगा जिसपर ए.के. इंटरनेशनल होटल ने अतिक्रमण कर रखा है.

इस संबंध में जब ए.के. इंटरनेशनल होटल के मोबाइल नंबर पर सम्पर्क किया गया, तो ऑपरेशनल मैनेजर ने कुछ भी नहीं बताया और मैनेजर अमित सिंह का नंबर दिया गया. जब अमित सिंह को कॉल किया गया तो उनका मोबाइल खबर लिखे जाने तक स्वीच ऑफ पाया गया.

Also Read This:शहर के नदी, नालों, तालाब और जीएम लैंड पर रसूखदारों का अवैध कब्जा
Also Read This:शहर के बीचों-बीच पौने नौ एकड़ खासमहल की जमीन में लगा गेट,खड़ी की दीवार


बीएनएन भारत बनीं लोगों की पहली पसंद

न्यूज वेबपोर्टल बीएनएन भारत लोगों की पहली पसंद बन गई है. इसका पाठक वर्ग देश ही नहीं विदेशों में भी हैं. खबर प्रकाशित होने के बाद पाठकों के लगातार फोन आ रहे हैं. लॉकडाउन के दौरान कई लोग अपना दुखड़ा भी सुना रहे हैं. हम लोगों को हर संभव सहायता करने का प्रयास कर रहें है. देश-विदेश की खबरों की तुरंत जानकारी के लिए आप भी पढ़ते रहें bnnbharat.com


  • क्या आपको ये रिपोर्ट पसंद आई? हमें लाइक(Like)/फॉलो(Follow) करें फेसबुक(Facebook) - ट्विटर(Twitter) - पर. साथ ही हमारे ख़बरों को शेयर करे.

  • आप अपना सुझाव हमें [email protected] पर भेज सकते हैं.

बीएनएन भारत की अपील कोरोनावायरस पूरे विश्व में महामारी का रूप ले चुकी है. सरकार ने इससे बचाव के लिए कम से कम लोगों से मिलने, भीड़ वाली जगहों में नहीं जाने, घरों में ही रहने का निर्देश दिया है. बीएनएन भारत का लोगों से आग्रह है कि सरकार के इन निर्देशों का सख्ती से पालन करें. कोरोनावायरस मुक्त झारखंड और भारत बनाने में अपना सहयोग दें.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

gov add