SACH KE SATH
add_doc_3
add_doctor

शिक्षक की काली करतूत, संयोजिका पर थी गंदी निगाह, ग्रामीणों ने दिखाया बाहर का रास्ता

जमशेदपुर: पूर्वी सिंहभूम जिला के धालभूमगढ़ प्रखंड स्थित नवसृजित प्राथमिक विद्यालय स्वर्गछिड़ा के शिक्षक को स्कूल की संयोजिका से दुर्व्यवहार करने के मामले में स्कूल से निकाल दिया गया.

इस मामले को लेकर ग्राम शिक्षा समिति एवं ग्रामीणों की बैठक विद्यालय परिसर में आयोजित हुई. बैठक की अध्यक्षता ग्राम समिति के अध्यक्ष चैताली कर्मकार ने की थी.

बैठक में पंचायत समिति सदस्य संजू रानी नाथ, ग्राम प्रधान चुना हेंब्रम, वार्ड सदस्य सालखान मांडी, दुर्गापद साव, दिनेश कर्मकार, तपन साव आदि उपस्थित थे. बैठक में शिक्षक पर लगे आरोपों के बारे में विस्तृत चर्चा की गई तथा उनपर लगे आरोप सही पाए गए.

शिक्षक ने भी ग्रामीणों के समक्ष अपनी गलती मान ली. उसके बाद उन्हें से निकाल दिया गया. आगे की कार्रवाई के लिए बीडीओ से लेकर एसडीओ तक को ग्राम शिक्षा समिति ने पत्र प्रेषित किया.

जानकारी के अनुसार, लॉकडाउन में शिक्षक द्वरा उक्त महिला संयोजिका को खिचड़ी बनाने के नाम पर, रजिस्टर मेंटेन करने के नाम पर अक्सर विद्यालय बुलाया करता था. उस पर गलत नजर रखता था. उसके बाद संयोजिका ने यह शिकायत ग्राम शिक्षा समिति के अध्यक्ष से की थी.

इसके बाद ग्राम शिक्षा समिति एवं ग्रामीणों की बैठक आयोजित हुई. इस बैठक में शिक्षक को स्कूल से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया. यह बैठक भी क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी हुई है. पहली बार ग्रामीणों ने साहसिक निर्णय लेते हुए कानूनी कार्रवाई करने की भी मांग की है.