BNN BHARAT NEWS
सच के साथ

जल, जंगल और जमीन के अधिकारों पर कोई आंच नहीं आएगी और ना ही कोई आंच आने दी जाएगीः नरेंद्र मोदी

2,536

खास बातें:-

  • पीएम नरेंद्र मोदी ने खूंटी में जनसभा को संबोधित किया

  • कांग्रेस व जेएमएम की नजर यहां की प्राकृतिक संपदा पर

    विकास के डबल इंजन को बनाएं रखने के लिए सिर्फ और सिर्फ कमल निशान आपको याद रखना है

  • 19 साल का झारखंड जब 25 साल का होगा तो इतना ताकतवर बन जाएगा कि उसे पीछे मुड़कर देखना ना पडे़

  • मतदान करके कांग्रेस और जेएमएम के झूठ का पर्दाफाश करें, उनके झूठ को बेनकाब करेंगे

  • यह चुनाव झारखंड के विकास के लिए है

रांचीः पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा है कि भाजपा सरकार आदिवासी क्षेत्रों में विशेष ध्यान दे रही है. वह अटल बिहारी वाजपेयी की भाजपा सरकार थी, जिसने जनजातीय समुदाय के लिए अलग झारखंड और छत्तीसगढ़ राज्य का गठन किया था. भगवान बिरसा मुंडा को सच्ची श्रद्धांजलि 2000 में अटल बिहारी वाजपेयी ने झारखंड को जन्म देकर दिया था. वह अटल की भाजपा सरकार थी, जिसने आजादी के बाद पहली बार जनजातीय समुदाय के लिए अलग से मंत्रालय बनाया. आज अर्जुन मुंडा उसके मंत्री हैं. अब झारखंड की उम्र 19 साल हो गई है. दुनिया के अंदर टीन एज की चर्चा होती है. घर में जब बच्चे की उम्र 19 साल हो जाती है, तो मां-बाप सजग हो जाते हैं. मां-बाप सोचते हैं. महत्वपूर्ण समय बच्चों की जिंदगी का आ गया. गंभीरता पूर्वक 19 साल के बेटे बेटी को उनके भविष्य के लिए मां-बाप सोचने लगते हैं. झारखंड की जनता के लिए भी अब झारखंड 19 साल का हो चुका है. झारखंड नागरिकों की जितनी जिम्मेवारी है उतनी मेरी भी जिम्मेवारी झारखण्ड के भविष्य को गढ़ने की है. 19 साल का झारखंड, जब 25 साल का हो जाएगा तो इतना ताकतवर, इतना समृद्ध और इतना सशक्त बना दें कि उसे पीछे मुड़कर देखना पड़े. इसलिए आने वाले 5 साल 19 साल के झारखंड के लिए बहुत जरूरी है. घर में 19 साल के बेटे बेटी के लिए जो समय महत्वपूर्ण होता है वैसा ही महत्वपूर्ण समय 19 साल की उम्र के झारखंड के लिए है. यह मौका हमें गंवाना नहीं है. मैं आपके लिए हमेशा तैयार हूं आप मेरा साथ दीजिए. पीएम मोदी मंगलवार को खूंटी में आयोजित जनसभा में बोल रहे थे.
सत्ता में वापसी के लिए इतना छटपटा रहे हैं कि झूठ फैला रहे हैं.

प्रधानमंत्री ने कहा कि भाजपा ने हर संभव प्रयास किया है कि झारखंड की सुंदरता यहां के शांतिप्रिय और मेहनत कश लोगों के बारे में देश और दुनिया जाने समझे. हम प्रयास कर रहे हैं. दुनिया के लोग घूमने फिरने झारखंड आएं. यहां की कला संस्कृति से परिचित हों, यहां का पर्यटन बढ़े, यहां उद्योग लगें। युवाओं को यहीं पर रोजगार के नए अवसर मिले. इसलिए आप सभी को कांग्रेस के साथियों से सावधान रहने की जरूरत है. उनका इतिहास आपको पता है. उनके कारनामे आपको याद हैं. उनकी नजर सिर्फ और सिर्फ यहां की प्राकृतिक संपदा पर है और अगर वह आए तो फिर से झारखंड को लूटना यह उनका एजेंडा है यह लोग सत्ता में वापसी के लिए इतना छटपटा रहे हैं कि आपसे भी झूठ फैला रहे हैं. डर और भ्रम फैला रहे हैं. वे नहीं चाहते यहां उद्योग लगे, यहां पर्यटन समृद्ध हो. उनको पता है अगर ऐसा हुआ तो गरीबों के पास पैसा आने लगेगा. इससे कांग्रेस नेताओं की कोई पूछ नहीं रहेगी. उनकी कोई कीमत नहीं रहेगी. मुझे विश्वास है आप सभी कांग्रेस के झूठ की सारी बातें यहां के लोगों तक पहुंच जाएंगे. इतना ही नहीं मतदान के दिन भारी संख्या में मतदान केंद्र पर जाकर के मतदान करके कांग्रेस और जेएमएम के झूठ का पर्दाफाश करेंगे. उनके झूठ को बेनकाब करेंगे. कमल के निशान पर बटन दबाकर के फिर एक बार 19 साल के झारखंड को नई ताकत देंगे। यह मेरा विश्वास है. याद रखें, यह चुनाव झारखंड के विकास के लिए है. दिल्ली और रांची में चल रहे हैं विकास के डबल इंजन को बनाए रखने के लिए इसलिए सिर्फ और सिर्फ कमल निशान आपको याद रखना है.

राष्ट्र निर्माण में अपने योगदान के प्रति झारखंड के लोगों की आस्था अभूतपूर्व

प्रधानमंत्री ने कहा कि खूंटी में प्रधानमंत्री बनने के बाद यह मेरा दूसरा दौरा है. पहले चरण में जिस प्रकार झारखंड के लोग मतदान करने पहुंचे और मतदान किया. उसके लिए मतदाताओं बधाई देता हूं. पहले चरण के मतदान से तीन बातें स्पष्ट हुई हैं. पहली लोकतंत्र को मजबूत करने और राष्ट्र निर्माण में अपने योगदान के प्रति झारखंड के लोगों की आस्था अभूतपूर्व है. दूसरी बात जिस प्रकार भारतीय जनता पार्टी सरकार ने नक्सलवाद की कमर तोड़ी है उसे बहुत ही छोटे इलाके तक समेट दिया है उससे डर का माहौल कम हुआ है विकास का माहौल बना. हालांकि 30 नवंबर को निराशा में डूबे लोगों ने ऐसे लोगों ने जिन्हें झारखंड की जनता नकार चुकी है. पहले चरण के मतदान के समय माहौल खराब करने की बहुत कोशिश की पूरे देश ने इसे देखा है. लेकिन झारखंड के लोगों ने इन कोशिशों को नाकाम किया. आप बधाई के पात्र हैं. पहले चरण के मतदान के बाद तीसरी बात स्पष्ट हुई है कि झारखंड के लोगों ने भाजपा सरकार के प्रति, कमल के फूल के प्रति एक विश्वास की भावना का भाव व्यक्त किया है कि झारखंड का विकास अगर कोई दल कर सकता है तो वह तो सिर्फ और सिर्फ भाजपा ही कर सकता. यही भावना मुझे यहां खूंटी में भी दिखाई दे रही है. आज झारखंड के लोग यह देख रहे हैं कि दिल्ली और रांची में डबल इंजन लगाने से विकास की गति तेज भी होती है. अर्जुन मुंडा ने सही कहा कि दिल्ली ने राज्य तक गांव तक विकास को पहुंचाया और रांची की भाजपा सरकार ने उसे घर घर ले जाने के लिए पूरी जिम्मेदारी के साथ काम किया. यहां की जनता सहज रूप से कह रही है. सहज रूप से नारा बोला जा रहा है. झारखंड पुकारा भाजपा दोबारा.

 

उनको घर मिला जिन्हें कांग्रेस व जेएमएम ने झोपड़ी में रहने छोड़ दिया था

प्रधानमंत्री ने कहा कि झारखंड के विकास के लिए भाजपा की वापसी जरूरी है. आज झारखंड के हर व्यक्ति को केंद्र और झारखंड सरकार की किसी न किसी योजना का सीधा लाभ पहुंच रहा है. किसी वर्ग के भेदभाव के बिना, किसी जाति के भेदभाव के बिना, किसी पंथ के भेदभाव के हर झारखंड वासी के विकास के लिए सामान भावना से हम काम कर रहे हैं. सबका साथ सबका विकास और सबका विश्वास ही हमारा मूल मंत्र है. आज उन क्षेत्रों में भी बिजली का तार पहुंचा है जहां गांव में पहुंचना तक मुश्किल था. वैसे क्षेत्र भी सड़क से जुड़ रहे हैं, जहां कभी विरोधी दल के नेता झांकने भी नहीं गये थे. आज उन जनजाति क्षेत्रों में भी पानी की पाइप पहुंच रही है, जिनको कांग्रेस और जेएमएम की सरकार ने अपने हाल पर छोड़ दिया था. आज गरीब, पिछड़े, आदिवासी परिवार को भी अपना घर मिल पा रहा है, जिनको कांग्रेस और जेएमएम की सरकार ने झोपड़ियों में रहने के लिए मजबूर किया था.

bhagwati

आईओसीएल का टर्मिनल भी तैयार हो चुका है अब झारखंड को यहीं से तेल की सप्लाई होगी

प्रधानमंत्री ने बताया कि 2015 में मुझे खूंटी कोर्ट में सोलर पावर प्लांट का उद्घाटन करने का अवसर मिला. तब तक सौर ऊर्जा से बिजली का उत्पादन सपना लगता था. लेकिन 5 वर्ष बाद आज झारखंड में करीब करीब 40 मेगावाट सौर ऊर्जा तैयार की जा रही है. इतना ही नहीं छतों पर सौर ऊर्जा के पैनल लगा कर भी सस्ती बिजली उपलब्ध हो रही है. अब तो गेतलसूद और धुर्वा डैम पर देश का सबसे बड़ा सौर पावर प्लांट बनने जा रहा है, इससे यहां के गांव-गांव तक पर्याप्त व सस्ती बिजली पहुंचेगी. सौर ऊर्जा के साथ-साथ यह खूंटी को उड़ीसा के पारादीप से पाइप लाइन से जोड़ा गया है. यहां आईओसीएल का टर्मिनल भी तैयार हो चुका है. अब झारखंड को यहीं से तेल की सप्लाई होगी. इस तरह डिफेंस यूनिवर्सिटी हो, नॉलेज सिटी हो ऐसे अनेक प्रोजेक्ट इस पूरे क्षेत्र में शिक्षा, कौशल और रोजगार के नए अवसरों का निर्माण करने वाला है.

भाजपा का डबल इंजन किसानों और आदिवासियों का जीवन आसान बनाने का काम कर रहा है

प्रधानमंत्री ने कहा कि दिल्ली और रांची में भाजपा का डबल इंजन किसानों और आदिवासियों का जीवन आसान बनाने का काम कर रहा है. यहां के सभी किसान खेती से जुड़े. उनके बैंक खाते में पीएम किसान सम्मान निधि के तहत सीधे मदद जमा की जा रही है, इसके साथ साथ छोटे किसानों के खाते में राज्य सरकार की तरफ से भी पांच से 25 हजार तक अतिरिक्त दिया जा रहा है. आपके पड़ोस में जहां भाजपा की सरकारें नहीं हैं. वहां की स्थिति आप देख लीजिए. वह किसानों के साथ, आदिवासियों के साथ, पिछड़ों के साथ झूठे वादे करके कांग्रेस और उसके साथी दलों ने सरकारें तो बना ली, लेकिन वादा पूरा करने से दूर भाग रहे हैं. लोगों को सड़कों पर उतरना पड़ रहा है.

हम वादा पूरा कर रहें हैं भाजपा कर्म और सेवा भाव से काम करती है

प्रधानमंत्री ने कहा कि झारखंड यह भली भांति जानता है कि कांग्रेस और जेएमएम की राजनीति स्वार्थ की राजनीति है. जबकि भाजपा कर्म और सेवा भाव से काम करती है. लोकसभा चुनाव के दौरान जब हम आप के बीच आए थे. हमने आपके सामने कुछ संकल्प लिए थे. पीएम सम्मान निधि का लाभ मिल रहा है. यह वादा हमने पूरा कर लिया. छोटे किसानों किसानों, मजदूरों, छोटे दुकानदारों को 60 वर्ष की आयु के बाद पेंशन की सुविधा देने की बात कही थी. यह वादा भी पूरा कर लिया बल्कि इन योजनाओं को झारखंड से ही लांच किया गया. पशुओं को होने वाली बीमारी से बचाने के लिए मुफ्त टीकाकरण का अभियान भी शुरू हुआ. आदिवासी क्षेत्रों में एकलव्य मॉडल रेजिडेंशियल स्कूल खोलने का राष्ट्रीय अभियान भी झारखंड से शुरू किया गया. नक्सली हमलों में शहीद होने वाले केंद्रीय बलों के जवानों को बच्चों को स्कॉलरशिप देने का फैसला भी लिया जा चुका है, इसका लाभ झारखंड के शहीद परिवारों को भी मिलने लगा है. दशकों से चल रहीं राष्ट्रीय समस्याओं समाधान भी सिद्ध हो रहा है. जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 अब हट चुका है. अब केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर को विकास के पथ पर ले जाने के लिए आदिवासी अंचल में ही जन्मे राजपाल के कंधे पर हैं. इस तरह राम जन्म भूमि को लेकर जिस विवाद को कांग्रेस और सहयोगी की सरकारों ने लगातार लगाता लटकाए रखा था. वह भी शांतिपूर्ण ढंग से हो गया. भगवान राम को जब अयोध्या से निकले थे वह राजकुमार थे. लेकिन जब अयोध्या वापस आए तो मर्यादा पुरुषोत्तम कहलाए. यह कैसे हुआ. एक राजकुमार धर से निकलता है. 14 साल वनवास में रहता है और जब वापस लौटता है तो मर्यादा पुरूषोत्तम राम भगवान राम कहलाता है क्योंकि 14 साल राजकुमार राम ने आदिवासियों के बीच में बिताए थे. आदिवासियों ने उन्हें संस्कारित किया. हमने जो वादे आपसे किए थे वह आज जमीन पर उतर चुकी है. यही कारण है कि आज झारखंड को भाजपा पर भरोसा है कमल के फूल पर भरोसा है.

हमारी बहनों को सशक्त करने पर बल दिया

प्रधानमंत्री ने कहा कि भाजपा की केंद्र की और झारखंड की सरकार ने यहां की बहनों को सशक्त करने पर बल दिया. महिलाएं सखी मंडल से जुड़ी. मुद्रा योजना से जोड़ कर उन्हें सहायता दी गई. महिलाओं को गाय खरीदने में मदद मिली. हस्तशिल्प के क्षेत्र में सहायता दी गई है. यहां खूंटी में तीन 3,000 से अधिक सखी मंडल बनाए गए हैं, जिसके तहत 40 हजार से अधिक परिवार जुड़े हैं. यहां के हजारों बहन, जिनके माध्यम से आजीविका कमा रही हैं. आने वाले वर्षों में भाजपा की सरकार की कोशिश है कि हर घर से एक महिला सदस्य इस आंदोलन का हिस्सा बने. ताकि अपने परिवार के आय के साधन ही बढ़ा सके और देश के विकास में भी भागीदार बन सकें. स्वच्छ भारत अभियान के तहत यहां घर-घर शौचालय तो बने ही हैं साथ में यहां की बहनों ने रानी मिस्त्री के रूप में भी नाम कमाया है. रानी मिस्त्री की बात जब मैं दुनिया में कहता हूं तो उन्हें बड़ा अचरज होता है. वे मुझसे पूछते हैं आज पूरे देश में इसकी बहुत चर्चा है. साथियों झारखंड देश के उन राज्यों में है. जहां बहनों को केंद्र सरकार की योजनाओं का लाभ तेजी से मिला है. अन्य राज्य में एक मुफ्त सिलेंडर मिला. वहीं झारखंड में 2 सिलेंडर दिए गए. यहां की भाजपा सरकार ने आपको दिया है. इससे आपको धुए से भी मुक्ति मिली. आपका समय भी बच रहा है और आपका वातावरण प्रदूषित होने से बच रहा है.

भाजपा आदिवासी हितों की रक्षा व आदिवासी गौरव को बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है

प्रधानमंत्री ने कहा कि बीते 5 वर्षों से भाजपा की सरकार ने आदिवासी समुदाय के विकास के लिए रिकॉर्ड बजट का प्रावधान किया. भाजपा की सरकार ने पहली बार आदिवासी क्षेत्रों में डिस्ट्रिक्ट मिनरल फण्ड की व्यवस्था की, जिसके तहत क्षेत्र से निकलने वाले खनिज का एक हिस्सा. यही के विकास में लगाना पड़ रहा है. *70 साल से अधिक समय तक केंद्र में कांग्रेस एवं सहयोगी की सरकार रही. लेकिन ऐसी व्यवस्था करने की कभी नहीं सोचा. झारखंड को भी डिस्ट्रिक्ट मिनरल फण्ड के तहत 5000 हजार करोड मिले हैं. आपके बच्चों के लिए स्कूल,अस्पताल या फिर रोजगार निर्माण से जुड़े योजनाएं तैयार करने में मदद मिल रही है. आदिवासी हितों के प्रति भाजपा गंभीर है. इसके आधार पर आज झारखंड को भरोसा मिला है कि जल, जंगल और जमीन के अधिकारों पर कोई आंच नहीं आएगी और ना ही कोई आंच आने दी जाएगी. यहां की भाजपा सरकार ने 60 हाजत से अधिक वनपट्टा दिया. बाकी के 30- 40 हजार वनपट्टा वितरण में सरकार बनने के बाद तेजी से कार्य किया जाएगा. भाजपा आदिवासी हितों की रक्षा करने, आदिवासी गौरव को बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है. भाजपा ने भारत की आजादी में आदिवासियों के योगदान को प्रचारित प्रसारित करने काम किया है. रांची में बिरसा मुंडा संग्रहालय का काम चल रहा है. पूरे देश में आदिवासी इतिहास, कला संस्कृति को संजोने के लिए अनेक संग्रहालय बनाए जा रहे हैं.

gold_zim

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

yatra
add44