BNN BHARAT NEWS
सच के साथ

अंतरिक्ष से मिल रहे रहस्यमयी सिग्नल, वैज्ञानिक भी हैरान

हर 16 दिनों में अंतरिक्ष से आ रहा है ये सिग्नल, वैज्ञानिकों ने इस सिग्नल का नाम FRB रखा है

नयी दिल्ली / कनाडाः अंतरिक्ष की दुनिया बेहद रहस्यमयी है. इंसान आज तक न जान पाया न ही समझ पाया कि ब्रह्मांड का रहस्य क्या है.

क्या इन तारों में हम अकेले हैं जो जीवित हैं या कोई और भी है हम जैसा.  वैज्ञानिक हमेशा ही तारों का रहस्य को सुलझाने में प्रयासरत रहें हैं.

और इसी प्रयास में वैज्ञानिकों ने पहली बार एक ऐसा सिग्नल खोजा है जो एक निश्चित अंतराल पर बार-बार अंतरिक्ष से पृथ्वी की ओर आ रहा है.

यह भी पढ़ेंः अंतरिक्ष में इसरो की कामयाबी, संचार उपग्रह जीसैट-30 लॉन्च

अभी तक इससे संबंधित पहलू रहस्यमय हैं. लेकिन वैज्ञानिकों ने इस सिग्नल का नाम एफआरबी (FRB) रखा है.  ऐसा नहीं है कि ऐसी घटना पहली बार सुनने को मिली है. पहले भी अंतरिक्ष से रहस्यमयी रेडियो सिग्नल आने की घटनाएं सामने आई हैं.

हैरान करने वाली बात यह है कि इस बार वैज्ञानिकों ने जो सिग्नल खोजा है वह निश्चित अवधि पर बार-बार आता है. इसका नाम रखा गया है एफआरबी, यानी ‘फास्ट रेडियो बर्स्ट’ (Fast Radio Bursts). वैज्ञानिकों के अनुसार, सिग्नल पृथ्वी से करीब 500 मिलियन (करीब 50 करोड़) प्रकाश वर्ष दूर से आ रहा है.

यह भी पढ़ेः विपक्ष ने जमीन, आसमान, हवा और पानी, अंतरिक्ष तक किया घोटाला : जे. पी.नड्डा

bnn_add

कनाडा के सीएचआईएमई यानी (Canadian Hydrogen Intensity Mapping Experiment) के वैज्ञानिकों ने 409 दिनों तक इन रेडियो तरंगों के चक्र पर नजर रखी. रिपोर्ट के अनुसार, वैज्ञानिकों ने बताया कि ये तरंगें अंतरिक्ष से चार दिनों तक एक घंटे तक आती रहती हैं.

यह भी पढ़ेंः पाकिस्तान 2022 तक पहला अंतरिक्ष यात्री भेजने को प्रतिबद्ध : मंत्री

इन तरंगों की अवधि काफी छोटी होती है. उसके बाद इनका आना बंद हो जाता है. यही प्रक्रिया 12 दिनों के बाद फिर शुरू होती है. क्या है स्त्रोत?  वैज्ञनिकों के लिए अभी भी ये तरंगें एक पहेली बनी हुई हैं.

यह भी पढ़ेंः जापान कर रहा है अंतरिक्ष में लिफ्ट से जाने की तैयारी

वैज्ञानिकों का कहना है कि अगर स्त्रोत पता लग जाएगा तो इस बात का भी खुलासा होगा कि ये तरंगे क्यों आ रही हैं.

यह भी पढ़ेंः भारत ने अंतरिक्ष क्षेत्र में फिर बजाया डंका चंद्रयान -2 के लिए काउंट डाउन शुरू

खास बात ये है कि ये तरंगे अलग-अलग स्त्रोतों से आ रही हैं.  रिपोर्ट के मुताबिक वैज्ञानिकों ने बताया कि पहले फास्ट रेडियो बर्स्ट तारों एवं धातुओं वाले एक छोटी गैलेक्सी से आया था.

वहीं, दूसरा एफआरबी एक अन्य आकाश गंगा जैसी घुमावदार गैलेक्सी से आया था.

 


बीएनएन भारत बनीं लोगों की पहली पसंद

न्यूज वेबपोर्टल बीएनएन भारत लोगों की पहली पसंद बन गई है. इसका पाठक वर्ग देश ही नहीं विदेशों में भी हैं. खबर प्रकाशित होने के बाद पाठकों के लगातार फोन आ रहे हैं. लॉकडाउन के दौरान कई लोग अपना दुखड़ा भी सुना रहे हैं. हम लोगों को हर संभव सहायता करने का प्रयास कर रहें है. देश-विदेश की खबरों की तुरंत जानकारी के लिए आप भी पढ़ते रहें bnnbharat.com


  • क्या आपको ये रिपोर्ट पसंद आई? हमें लाइक(Like)/फॉलो(Follow) करें फेसबुक(Facebook) - ट्विटर(Twitter) - पर. साथ ही हमारे ख़बरों को शेयर करे.

  • आप अपना सुझाव हमें [email protected] पर भेज सकते हैं.

बीएनएन भारत की अपील कोरोनावायरस पूरे विश्व में महामारी का रूप ले चुकी है. सरकार ने इससे बचाव के लिए कम से कम लोगों से मिलने, भीड़ वाली जगहों में नहीं जाने, घरों में ही रहने का निर्देश दिया है. बीएनएन भारत का लोगों से आग्रह है कि सरकार के इन निर्देशों का सख्ती से पालन करें. कोरोनावायरस मुक्त झारखंड और भारत बनाने में अपना सहयोग दें.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

gov add